Wednesday, July 10, 2024
Homeराष्ट्रीयआखिर भीषण गर्मी से कब मिलेगी राहत? 14 जून तक दिल्ली, यूपी...

आखिर भीषण गर्मी से कब मिलेगी राहत? 14 जून तक दिल्ली, यूपी और बिहार समेत 6 राज्यों का बुरा हाल

नई दिल्ली, (वेब वार्ता)। देश में एक बार फिर तापमान बढ़ गया है, जिस कारण लोग भीषण गर्मी की मार झेल रहे हैं। आलम यह है कि घर से निकलते ही स्किन में जलन होने लगती है। हालांकि आईएमडी ने अगले 5 दिनों के लिए देश के कुछ राज्यों को हीटवेव को लेकर आगाह किया है। वहीं, लोगों को भी इससे बचने की सलाह दी है। आईएमडी ने जानकारी देते हुए कहा है कि अगले 5 दिनों के दौरान उत्तर पश्चिम और पूर्वी भारत के कुछ हिस्सों में हीटवेव की स्थिति बनी रहने की संभावना है।

दिल्ली समेत पूरे उत्तर भारत के लिए अलर्ट

आईएमडी के मानें तो दिल्ली वालों का हाल भी फिर गर्मी से खराब होने वाला है। मौसम विभाग ने दिल्ली समेत पूरे उत्तर भारत के लिए अलर्ट जारी किया है। बताया गया कि दिल्ली में पारा 47 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने के आसार है। वहीं, यूपी और बिहार में भी भीषण गर्मी पड़ने की आशंका जताई गई है। आईएमडी ने हाल ही में कहा कि यूपी, बिहार, झारखंड, राजस्थान, उत्तराखंड और दिल्ली में गर्मी का प्रकोप देखने को मिलेगा।

दिल्ली का क्या है हाल?

दिल्ली में गर्मी ने दिल्लीवालों के पसीने छुड़ा रखे हैं और ये अभी अगले 5 दिनों तक कम होने वाला नहीं है। आईएमडी ने दिल्ली एनसीआर में 11 से 13 जून तक ऑरेंज अलर्ट जारी कर रखा है। सोमवार को दिल्ली को अधिकतम तापमान 43 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, वहीं, दूसरे इलाकों में भी गर्मी का प्रकोप नजर आया। नरेला का 46.6 डिग्री, नजफगढ़ में 46.3 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। वहीं, आयानगर में 44.7, लोधी रोड पर 43.8 और पालम में 44.1 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। वहीं, मौसम विभाग के मुताबिक, राजधानी दिल्ली में मानसून 29 जून को पहुंचेगा।

यूपी में कब होगी बारिश?

यूपी के ज्यादातर जिलों में 45 डिग्री से लेकर 47 डिग्री सेल्सियस के बीच तापमान रहा। प्रयागराज में सबसे अधिक 47.1 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया, जबकि, वाराणसी में 45.3, बागपत और फुरसतगंज में 45.2 डिग्री सेल्सियस, फतेहपुर में 45 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। वहीं राजधानी लखनऊ में भी गर्मी का प्रकोप नजर आया, यहां अधिकतम तापमान 44.7 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। मौसम विभाग की मानें तो 22 जून तक उत्तर प्रदेश में मानसून एंट्री करेगा इसके बाद ही यहां गर्मी से राहत मिलेगी।

बिहार में गर्मी से कब मिलेगी राहत?

प्रदेश में भीषण गर्मी और हीटवेव से लोगों का हाल बुरा हो रहा है। मौसम विभाग की मानें तो 14 जून तक गर्मी और हीटवेव से राहत मिलने की उम्मीद न के बराबर है। मौसम विभाग ने 10 से ज्यादा जिलों में बहुत ज्यादा हीटवेव चलने को लेकरअलर्ट जारी किया है। इसके अलावा राज्य के 25 से ज्यादा जिलों में भी हीट वेव चलने की संभावना जताई है। मौसम विभाग के मुताबिक, बिहार में 15 जून से मॉनसून की गतिविधियां शुरू हो जाएगी, इसके बाद ही राज्य में बारिश देखने को मिलेगी।।

राजस्थान का भी बुरा हाल

इस भीषण गर्मी में राजस्थान भी बेहाल है। कई जिलों में आग बरस रहा है। मंगलवार को चुरू जिले में अधिकतम तापमान 45.6 डिग्री सेल्सियस रहा, श्रीगंगानगर में 45 डिग्री सेल्सियस, फतेहपुर और बीकानेर में 44.8, पिलानी में 44.7, संगरिया में 44.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हालांकि आने वाले दिनों में राज्य के कई हिस्सों में आसमान में बादल छा सकते हैं, साथ ही बिजली और तेज हवाएं भी चलने के आसार हैं।

झारखंड में दिखा प्रकोप

प्रदेश में भी गर्मी ने लोगों का जीना मुहाल कर रखा है। कई जिलों में हीटवेव चल रहे हैं। यहां मौसम विभाग ने 12 से 14 जून तक के लिए हीटवेव को लेकर रेड अलर्ट जारी किया है। हालांकि कुछ जिलों में आने वाले कुछ दिनों में बारिश भी हो सकती हैं।

उत्तराखंड में टूटा 10 साल का रिकार्ड

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में गर्मी ने अपना तेवर दिखा रखा है। मंगलवार को यहां पिछले 10 सालों को रिकार्ड टूट गया, वहीं, आज यहां का तापमान 43 डिग्री सेल्सियस रहने के अनुमान है। मौसम विभाग के मुताबिक, लगातार बढ़ रही गर्मी के कारण गर्म हवाएं चल रही है। आने वाले दिनों में भी लोगों को राहत मिलने के आसार कम हैं। मंगलवार को देहरादून का अधिकतम तापमान 7 डिग्री बढ़ोतरी के साथ 41.8 दर्ज किया गया, जो जून महीने का बीते 10 सालों में अब तक का सबसे अधिक तापमान है। उम्मीद की जा रही कि अगले हफ्ते के बाद मानसून प्रदेश में दस्तक देगा।

इन राज्यों में बारिश के आसार

IMD ने आगे बताया कि अगले 3 से 4 दिनों के दौरान पश्चिम बंगाल, सिक्किम के कुछ हिस्से, असम और मेघालय में भारी बारिश होने की संभावना है। आगे कहा कि नगालैंड, मिजोरम और त्रिपुरा के कुछ जगहों पर 13 जून को भारी वर्षा हो सकती है। वहीं, आज यानी 12 जून को कर्नाटक, केरल और तेलंगाना में को भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है। आईएमडी ने फिर आगे बताया कि दक्षिण-पश्चिम मानसून उत्तर अरब सागर के कुछ जगहों, मध्य महाराष्ट्र के कुछ जगहों और गुजरात के दक्षिण हिस्से तक पहुंच चुका है। इस बार गुजरात में मानसून मंगलवार को तय समय से 4 दिन पहले ही दस्तक दे दी है। आईएमडी के मुताबिक, गुजरात में मानसून आम तौर पर 15 जून तक पहुंचता है, लेकिन इस बार समय से चार दिन पहले की मानसून ने गुजरात में दस्तक दे दी है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

हमारे बारें में

वेब वार्ता समाचार एजेंसी

संपादक: सईद अहमद

पता: 111, First Floor, Pratap Bhawan, BSZ Marg, ITO, New Delhi-110096

फोन नंबर: 8587018587

ईमेल: webvarta@gmail.com

सबसे लोकप्रिय

Recent Comments