Wednesday, July 10, 2024
Homeमनोरंजननवाजुद्दीन सिद्दीकी ने इस पॉपुलर फिल्म का ठुकराया था ऑफर, कहा- 'जानवर...

नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने इस पॉपुलर फिल्म का ठुकराया था ऑफर, कहा- ‘जानवर जाग गया…’

मुंबई, (वेब वार्ता)। नवाजुद्दीन सिद्दीकी को देश के सबसे बेहतरीन एक्टर्स में गिना जाता है। उनकी शानदार एक्टिंग और दमदार किरदार लोग चाह कर भी नहीं भूल सकते हैं। वहीं नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने कई बार अपनी अनुराग कश्यप के साथ बॉन्ड को लेकर भी खुलासा किया है। अब हाल ही में एक्टर ने फिल्म निर्माता अनुराग कश्यप के प्रति आभार व्यक्त किया है, जिन्होंने उन्हें ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ फ्रैंचाइज, ‘रमन राघव 2.0’ और ‘सेक्रेड गेम्स’ जैसी जबरदस्त फिल्म में काम करने का मौका दिया है। ‘गैग्स ऑफ वासेपुर’ फिल्म ने नवाजुद्दीन की किस्मत बदल दी थी। इस फिल्म में नवाज ने फैसल खान का रोल प्ले किया था।

जिस फिल्म से चमकी किस्मत उसी को मारी थी ठोकर

अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी हिंदी सिनेमा में अपने बेहतरीन काम के लिए जाने जाते हैं। एक नए इंटरव्यू में, नवाजुद्दीन ने अनुराग के साथ अपने तालमेल पर चर्चा करते हुए कहा कि उन्हें फिल्म निर्माता के साथ काम करना बहुत पसंद है इसलिए वो उस वक्त को हमेशा याद करते हैं जब उन्होंने ने उनके साथ काम किया। दिलचस्प बात यह है कि नवाजुद्दीन ने खुलासा किया कि उन्होंने शुरुआत में ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ की स्क्रिप्ट को बकवास कहकर ठुकरा दिया था।

अनुराग कश्यप के अंदर का जानवर जाग गया

इंडिया टुडे के साथ बातचीत में, अभिनेता ने अनुराग के साथ अपनी बॉन्ड के बारे में खुलकर बात की और फिल्म की स्क्रिप्ट को शुरू में रिजेक्ट करने के पीछे का कारण भी बताया। कहा कि, ‘बड़ी मुश्किल से मेरे लिए केवल पांच डायलॉग लिखे गए और मनोज बाजपेयी के पास कुछ बेतरतीब लाइनें थीं, लेकिन जब हम सेट पर गए तो अनुराग के अंदर एक जानवर जाग गया। जिस तरह से उन्होंने मौके पर ही कहानी लिखना शुरू किया, उसी तरह फिल्म बन गई। उससे पहले, किसी के पास फिल्म की स्क्रिप्ट नहीं थी।’ आगे एक्टर नवाजुद्दीन ने कहा, ‘अनुराग के मन में एक उलझी सी कहानी थी, जिसके आधार पर उन्होंने फिल्म बनाने का फैसला किया।’

ऐसे शूट हुई गैंग्स ऑफ वासेपुर

नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने आगे कहा, ‘शुरुआत में आर्थिक कारणों से दो या तीन दिन शूटिंग नहीं हो पाई। बाद में अनुराग ने हमें तालाब के पास जाकर बैठने को कहा। उन्होंने हुमा कुरैशी और मुझे वहां बैठाया और वर्कशॉप के दौरान जो कुछ भी मैंने कहा था उसे आपस बोला। इस तरह से आइकॉनिक सीन शूट हुआ। अगले दिन, उन्होंने एक कागज पर चार या पांच अभिनेताओं के लिए कुछ और डायलॉग लिखे और एक्शन कहा दिया। इस तरह से शूटिंग की गई। वहीं अनुराग के साथ काम करने में बहुत मजा आता है।’

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

हमारे बारें में

वेब वार्ता समाचार एजेंसी

संपादक: सईद अहमद

पता: 111, First Floor, Pratap Bhawan, BSZ Marg, ITO, New Delhi-110096

फोन नंबर: 8587018587

ईमेल: webvarta@gmail.com

सबसे लोकप्रिय

Recent Comments