अमित शाह ने कहा था चुनाव तक ममता अकेली होंगी, अब TMC का दावा- BJP के 7 सांसद दीदी के संपर्क में

Webvarta Desk: पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव (West Bengal Elections) से पहले राजनीतिक घमासान तेज हो गया है। BJP के सत्तारुढ़ तृणमूल कांग्रेस पार्टी (TMC) में सेंधमारी के बाद अब टीएमसी ने पलटवार की तैयारी की है।

पश्चिम बंगाल (West Bengal) के खाद्य और आपूर्ति मंत्री ने दावा किया है कि बीजेपी के 6 से 7 सांसद TMC के संपर्क में हैं। उन्होंने कहा कि जल्द ही भारतीय जनता पार्टी के ये सांसद ममता दीदी की शरण में आकर तृणमूल कांग्रेस (TMC) की सदस्यता ग्रहण करेंगे।

स्वामी विवेकानंद की 157वीं जयंती के मौके पर मंगलवार को नॉर्थ 24 परगना जिले के हावड़ा में हुए एक समारोह में खाद्य और आपूर्ति मंत्री ज्योतिप्रिय मलिक ने कहा कि बीजेपी के 6 से 7 सांसद जल्द ही टीएमसी में शामिल होंगे। उन्होंने दावा किया कि बीजेपी में गए कई लोग वापसी के लिए टीएमसी से सिफारिश कर रहे हैं, लेकिन आखिरी फैसला पार्टी प्रमुख ममता दीदी के हाथ में हैं, उनकी हां पर ही आगे का कदम उठाया जाएगा।

बीजेपी में टिकने वाले नहीं सुवेंदु

टीएमसी छोड़कर भगवा झंडा थामने वाले सुवेंदु अधिकारी के बारे में मलिक ने कहा कि वो (सुवेंदु अधिकारी) बीजेपी में ज्यादा दिन टिकने वाले नहीं हैं। वह दिन दूर नहीं कि जब वो बीजेपी से किनारा कर लेंगे।

अमित शाह ने कही थी ये बात

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) ने बीते दिनों मिदनापुर रैली में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को जोर का झटका देते हुए सुवेंदु अधिकारी को बीजेपी में शामिल करवाया था। इस मौके पर हुई रैली में शाह ने तृणमूल कांग्रेस और ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा था। अमित शाह ने कहा था कि अभी तो शुरुआत हुई है, जब चुनाव आएगा तो ममता दीदी आप अकेली रह जाएंगी।

बीजेपी ने 2019 लोकसभा चुनाव में टीएमसी को चौंकाया

2019 लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने 42 लोकसभा सीटों में 18 सीटें जीतकर तृणमूल कांग्रेस को हैरान कर दिया था। अगर विधानसभा क्षेत्रवार देखें तो बीजेपी ने 121 विधानसभा सीटों पर बढ़त हासिल की जबकि टीएमसी ने 164 विधानसभा सीटों पर। 2014 से 2019 तक पश्चिम बंगाल में बीजेपी की बढ़त शानदार रही, वहीं तृणमूल कांग्रेस दक्षिण और मध्य बंगाल में अपनी पकड़ बनाए रखने में कामयाब रही।