पश्चिम बंगाल में सांवले रंग के लिए बच्चों को पढ़ाया ‘U’ फॉर ‘Ugly’, 2 टीचर सस्पेंड

New Delhi: पश्चिम बंगाल सरकार ने पूर्वी वर्धमान जिले में दो शिक्षिकाओं को प्री-प्राइमरी के छात्रों को अंग्रेजी वर्णमाला की पुस्तक में सांवले रंग (Racism) के लोगों के लिए अपमानजनक हिस्से को पढ़ाने के आरोप में निलंबित कर दिया है। राज्य के शिक्षा मंत्री पार्था चटर्जी ने इस मामले में खुद संज्ञान लेते हुए कार्रवाई की।

संबंधित अक्षर (Racism) से जुड़े शब्दों और छवियों को छात्रों को समझाने के लिए इस पुस्तक में ‘U’ अक्षर से ‘Ugly’ (बदसूरत) शब्द लिखा हुआ पढ़ाया जा रहा था। अक्षर के बगल में सांवले रंग के एक लड़के की तस्वीर छपी हुई थी।

शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने बताया, ‘यह पुस्तक शिक्षा विभाग द्वारा निर्दिष्ट पाठ्यपुस्तकों का हिस्सा नहीं है। स्कूल ने स्वयं यह किताब शामिल की है। छात्रों के मन में पूर्वाग्रह स्थापित करने वाले किसी भी कृत्य को हम कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे।’

मंत्री चटर्जी ने इस मुद्दे को प्रकाश में लाने के लिए मीडियाकर्मियों को धन्यवाद देते हुए कहा कि सांवले रंग वाले को बदसूरत पढ़ाया जाना आपराधिक मामला है। इस मामले में कार्रवाई करते हुए श्रवणी मंडल और बरनाली दास को सस्पेंड कर दिया गया है।

लॉकडाउन के चलते भले ही स्कूल अब बंद हों, लेकिन यह मामला उस वक्त सामने आया जब स्कूल के एक छात्र के पिता उसे इस किताब से घर पर पढ़ा रहे थे। उन्होंने अन्य अभिभावकों को सूचित किया और फिर शिक्षा विभाग को इससे अवगत कराया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *