West Bengal: कैलाश विजयवर्गीय की गाड़ी पर पत्थरबाजी, ममता सरकार पर BJP हुई लाल

Webvarta Desk: पश्चिम बंगाल (West Bengal News) में बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) के काफिले पर हमले से राजनीति गर्मा गई है। हमले में बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) और मुकुल रॉय (Mukul Roy) समेत कई नेता बाल-बाल बच गए हैं। विजयवर्गीय के गाड़ी के शीशे भी तोड़ दिए गए।

विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) ने घटना का विडियो शेयर करते हुए ट्वीट भी किया। उन्होंने बताया कि टीएमसी के गुंडों ने बीजेपी कार्यकर्ताओं को मारा और गाड़ी पर पथराव भी किया। विजयवर्गीय पर हुए हमले को नड्डा ने लोकतंत्र के लिए शर्मनाक बताया।

बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए जेपी नड्डा (JP Nadda) ने कहा, ‘हमारे काफिले में कोई ऐसी कार नहीं थी जिस पर हमला न किया गया हो। मैं सुरक्षित हूं क्योंकि मैं बुलेटप्रूफ कार में था। पश्चिम बंगाल में इस तरह की अराजकता और अहिष्णुता को खत्म करना होगा।’ जेपी नड्डा बोले, ‘आज के हमले में मुकुल रॉय और कैलाश विजयवर्गीय घायल हो गए हैं। यह लोकतंत्र में शर्म की बात है।’

बंगाल पुलिस बोली-सब सुरक्षित, हालात शांतिपूर्ण

जेपी नड्डा (JP Nadda) के काफिले पर हमले को लेकर पुलिस का बयान आया है। पुलिस के मुताबिक, ‘नड्डा सकुशल वेन्‍यू पर पहुंच गए हैं। उनके काफिले को कुछ नहीं हुआ। कुछ जगहों पर गाड़‍ियों की तरफ पत्‍थर फेंके गए। सब सुरक्षित हैं और हालात शांतिपूर्ण हैं। असल में क्‍या हुआ, यह पता लगाने के लिए जांच की जा रही है।’

केंद्र ने ममता सरकार से तलब की रिपोर्ट

केंद्र सरकार ने भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के पश्चिम बंगाल दौरे के समय कथित ‘गंभीर सुरक्षा खामियों’ को लेकर गुरुवार को राज्य सरकार से रिपोर्ट तलब की। केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से यह रिपोर्ट पश्चिम बंगाल सरकार से मांगी गई है जब बुधवार को भाजपा की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखा था।

अपने पत्र में घोष ने आरोप लगाया था कि 200 से अधिक लोगों की भीड़ लाठी और डंडों के साथ कोलकाता में भाजपा कार्यालय के सामने मौजूद थी और काले झंडे दिखा रही थी। उन्होंने यह दावा भी किया था कि कुछ प्रदर्शनकारी पार्टी कार्यालय के सामने खड़ी कारों पर चढ़ गए और नारेबाजी की, लेकिन पुलिस ने उन्हें रोकने के लिए हस्तक्षेप नहीं किया।

क्या है पूरा मामला?

बता दें कि दो दिन के दौरे पर पहुंचे बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर डायमंड हार्बर के नजदीक पथराव किया गया। इस दौरान कार्यकर्ताओं पर लाठी डंडे भी चलाए गए। बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय के वाहन पर भी प्रदर्शनकारियों ने पथराव किया। वह दक्षिण 24 परगना जा रहे थे। प्रदर्शनकारियों ने उस सड़क को अवरुद्ध करने का भी प्रयास किया जहां से जेपी नड्डा का काफिला गुजर रहा था। बता दें कि डायमंड हार्बर ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी का संसदीय क्षेत्र है।

विजयवर्गीय ने ट्वीट कर बताया पूरा वाकया

कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट किया, ‘बंगाल पुलिस को पहले ही राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के कार्यक्रम की जानकारी दी गई थी, लेकिन एक बार फिर बंगाल पुलिस नाकाम रही। सिराकोल बस स्टैंड के पास पुलिस के सामने ही टीएमसी गुंडों ने हमारे कार्यकर्ताओं को मारा और मेरी गाड़ी पर पथराव किया।’

बीजेपी बोली- भारतीय राजनीति का काला दिन

बीजेपी ने इसे भारतीय राजनीति के इतिहास का काला दिन बताया। वहीं टीएमसी ने कहा कि यह बीजेपी का भवानीपुर में आखिरी दौरा होगा। नड्डा के काफिले पर हुए हमले पर नेताओं के बयान आने शुरू हो गए हैं। पश्चिम दिलीप घोष ने कहा, ‘यह भारतीय राजनीति के इतिहास का काला दिन है। पश्चिम बंगाल में मीडिया तक सुरक्षित नहीं है।’

एक बीजेपी नेता ने कहा, ‘यह एक पूर्व नियोजित हमला था, पुलिस प्रदर्शनकारियों की मदद कर रही थी। कई बीजेपी कार्यकर्ता घायल हो गए हैं। पश्चिम बंगाल में लोकतंत्र नहीं बचा है।’

टीएमसी बोली- बीजेपी का आखिरी दौरा होगा

टीएमसी नेता मदन मित्रा बोले, ‘बीजेपी का यह भवानीपुर दौरा शायद आखिरी दौरा होगा क्योंकि बंगाल के लोग और पार्टी कार्यकर्ता उन्हें मुंहतोड़ जवाब देने को तैयार है। हमने देखा कि बीजेपी के ऐंटी सोशल क्या करने की कोशिश कर रहे हैं। अब बहुत हो गया। आज टीएमसी तैयार है। बंगाल में केवल एक चेहरा ममता बनर्जी ही है।’

बीजेपी ने लगाया सुरक्षा में चूक का आरोप

इससे पहले नड्डा के दौरे पर सुरक्षा चूक का आरोप लगाते हुए पश्चिम बंगाल बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा, ‘पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा के राज्य दौरे के दौरान सुरक्षा में चूक हुई है। कल उनके कार्यक्रम में पुलिस तैनात नहीं थी। मैंने इस मसले पर यहां के प्रशासन और गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखा है।’

बता दें कि जेपी नड्डा के दौरे का दूसरा दिन है। वह 24 दक्षिण परगना में बीजेपी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करेंगे। बुधवार को बंगाल दौरे पर पहुंचे जेपी नड्डा ने कोलकाता में राज्य चुनाव कार्यालय और 9 जिलों में बीजेपी ऑफिस का उद्घाटन किया था।