West Bengal: बंगाल सरकार ने EC को सौंपी रिपोर्ट, ममता पर हमला, कैसे, किस तरह हुआ?

Webvarta Desk: चुनाव आयोग (Election Commission) को पश्चिम बंगाल (West Bengal) मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) पर 10 मार्च को नंदीग्राम में हुए कथित हमले को लेकर बंगाल सरकार की रिपोर्ट मिल गई है।

हालांकि, आयोग (Election Commission) ने इसे ‘अधूरी’ करार देते हुए मुख्य सचिव अलापन बंदोपाध्याय से और डीटेल में रिपोर्ट देने को कहा है। चुनाव आयोग के एक अधिकारी ने बताया कि मुख्य सचिव को शनिवार तक इस तरह का ब्यौरा देने को कहा गया है कि यह घटना किस प्रकार हुई और इसके पीछे कौन हो सकता है?

चुनाव अधिकारी ने कहा कि पश्चिम बंगाल सरकार की ओर से सौंपी गई रिपोर्ट अधूरी लग रही है और इसमें घटना के बारे में विस्तार से ब्यौरा नहीं है, जैसे घटना किस तरह हुई और इसके पीछे कौन हो सकता है? हमने राज्य प्रशासन से और ब्यौरा तलब किया है।’ उन्होंने कहा कि शुक्रवार की शाम को मिली रिपोर्ट में मौके पर भारी भीड़ होने का जिक्र किया गया है लेकिन ‘उन चार-पांच लोगों का’ कोई जिक्र नहीं है, जिन पर ममता बनर्जी ने हमले का आरोप लगाया है।

कथित हमले का साफ वीडियो फुटेज तक नहीं

रिपोर्ट में कहा गया कि नंदीग्राम में बुधवार की शाम को तृणमूल कांग्रेस नेता पर हुए कथित हमले का स्पष्ट वीडियो फुटेज नहीं है। बुधवार की शाम को हुई इस घटना के बाद चुनाव आयोग ने राज्य सरकार से रिपोर्ट तलब की और राज्य के लिए दो पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की थी।

बंगाल में इस दिन डाले जाएंगे वोट

दरअसल पश्चिम बंगाल में 27 मार्च, एक अप्रैल, छह अप्रैल, दस अप्रैल, 17 अप्रैल, 22 अप्रैल, 26 अप्रैल और 29 अप्रैल को अलग-अलग क्षेत्रों में वोट डाले जाएंगे। प्रदेश में कुल 294 विधानसभा सीटें हैं।