UP Chunav: अखिलेश को ‘माफी’ और ‘साइकल’ पर सवार होने के लिए इतने क्यों बेताब हैं शिवपाल यादव?

photo 87010460

आगरा
यूपी विधानसभा चुनाव में गठबंधन की तस्वीर इस बार बदल सकती है। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने समाजवादी पार्टी से गठबंधन की अपनी इच्छा जाहिर की। उन्होंने कहा कि आगामी यूपी विधानसभा चुनाव के लिए गठबंधन के लिए समाजवादी पार्टी उनकी प्राथमिकता में है।

शिवपाल ने यह भी साफ किया कि कांग्रेस और बीजेपी से उनकी पार्टी का गठबंधन नहीं होगा। सामाजिक परिवर्तन रथयात्रा लेकर आगरा पहुंचे शिवपाल यादव ने कहा कि वे सभी समान विचारधारा वाले और सेक्युलर दलों से गठबंधन कर सकते हैं। मगर उनकी पहली प्राथमिकता अब भी समाजवादी पार्टी है। अगर एसपी से गठबंधन हो जाए तो अच्छा है।

बीजेपी पर खूब बरसे शिवपाल
अखिलेश यादव की विजय यात्रा के बारे में पूछे गए सवाल पर शिवपाल यादव ने कहा कि एसपी और हमारा दल दो अलग-अलग राजीनतिक पार्टियां है। जनता के बीच जाकर जनाधार जुटाना और चुनाव प्रचार करना दोनों के लिए महत्वपूर्ण है इसलिए दोनों पार्टी अलग-अलग रथ यात्रा निकाल रही है। उन्होंने कहा, ‘अगर अखिलेश उनका आशीर्वाद लेना चाहते हैं तो वह चाचा के पास आएं, फिर चाचा माफ करेंगे। आप भी हमारा संदेश पहुंचा दीजिए।’

बीजेपी सरकार पर निशाना साधते हुए शिवपाल यादव ने कहा कि सरकार ने ‘सबका साथ, सबका विकास’ का वादा किया था, लेकिन पूरा नहीं किया। सरकार में आकर हम उन वादों को पूरा करके दिखाएंगे। शिवपाल ने कहा कि पिछले दस माह से मौसम की परवाह किए बिना किसान दिल्ली सीमा पर आंदोलनरत हैं, जिसमें 500 से अधिक किसानों की जानें जा चुकी हैं। इन सरकारों को न तो किसानों-मजदूरों की चिंता है और न समाज के किसी वर्ग की।