21.1 C
New Delhi
Thursday, December 1, 2022

Lakhimpur khiri: सपा प्रत्याशी विनय तिवारी को करारी (34,298) हार दी अरविंद गिरी के बेटे अमन गिरी ने

 लखीमपुर खीरी (वेबवार्ता)- विधान सभा गोला गोकर्णनाथ सीट पर हुए उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी अमन गिरी ने बड़ी जीत हासिल की है। उन्होंने सपा प्रत्याशी विनय तिवारी को 34,298 वोट के अंतर से हराया है। मार्जिन में उन्होंने अपने पिता अरविंद गिरी का रिकार्ड भी तोड़ दिया है। अरविंद गिरी ने 2022 में विनय तिवारी को 29294 वोटों के मार्जिन से हराया था। जीत के बाद अमन गिरी ने पिता अरविंद के सपनों को आगे बढ़ाने का वादा किया है। वहीं, हार के बाद विनय तिवारी ने इस चुनाव को “सरकार बनाम विनय तिवारी” होने की बात कही। उन्होंने कहा कि उधर से पूरा सिस्टम और प्रशासन था। इधर अकेला मैं। अमन गिरी को 1,24,810 वोट मिले। जबकि सपा के विनय तिवारी को 90,512 वोट मिले हैं। कुल 223352 वोट काउंट किए गए हैं। जबकि इसमें 1771 वोट नोटा को पड़े हैं। अमन गिरी ने पहले ही राउंड से बढ़त बना ली थी। पहले राउंड में उन्हें 3877 वोट मिले। जबकि विनय तिवारी को 2231 वोट मिले। बढ़त का यह सिलसिला 32वें यानी आखिरी राउंड की काउंटिंग तक चला। एक बार भी अमन पीछे नहीं हुए, हर राउंड में सपा पर उनकी बढ़त बढ़ती चली गई। वोटों की गिनती लगातार जारी है। गोला गोकर्णनाथ विधानसभा सीट पर जीत के बड़े मायने हैं। पहले तो योगी 2.0 सरकार में हुए उपचुनावों में यह लगातार भाजपा की तीसरी जीत है। आगे मैनपुरी लोकसभा सीट जोकि मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद खाली हुई है। रामपुर विधानसभा सीट जोकि आजम खान की विधानसभा सदस्यता रद्द होने के बाद खाली हुई। इन दोनों ही सीटों पर अगले महीने चुनाव होने हैं। ऐसे में गोला सीट पर जीत से कार्यकताओं का मनोबल बढ़ा है। यूपी में कहा जाता है कि उपचुनाव सत्ता पक्ष का होता है। इसके बावजूद भाजपा ने इस सीट पर कड़ी मशक्कत की। गोला सीट पर अरविंद गिरी की मौत के बाद सहानुभूति की लहर तो थी ही। साथ ही भाजपा प्रत्याशी के पक्ष में 39 स्टार प्रचारक भी चुनाव प्रचार करने गोला पहुंचे। इसमें खुद सीएम योगी भी शामिल थे। जबकि सपा मुखिया अखिलेश यादव ने गोला में प्रचार नहीं किया। सपा के बड़े नेताओं में सिर्फ प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम ही गोला में रहे। जिसका खामियाजा सपा को भुगतना पड़ा।

IMG 20221106 WA0446

अरविंद गिरी के बेटे हैं अमन गिरि

भाजपा प्रत्याशी अमन गिरि दिवंगत भाजपा विधायक अरविंद गिरी के बेटे हैं। 26 साल के अमन ने हैदराबाद में रहकर लॉ की पढ़ाई की है। अमन गिरि की मां का नाम सुधा गिरि है। अमन का जन्म 1 जून, 1996 में हुआ था। उन्होंने बीबीए और एलएलबी ऑनर्स तक पढ़ाई की है। वह अभी बैचलर हैं। अमन की दो बहनें भी हैं।

IMG 20221106 WA0447

पिता के सामने ही एक्टिव थे अमन

अमन ने 2022 के चुनाव में पिता अरविंद गिरि के साथ चुनावी कमान संभाली थी। पिता की सारी सभाओं, रैलियों की तैयारियां वो खुद करते थे। अमन के पिता अरविंद गिरि साल 1996, 2002, 2007 में हैदराबाद खीरी विधानसभा सीट से सपा के टिकट पर विधायक चुने गए थे। बाद में हैदराबाद खीरी विधानसभा सीट का नाम गोला गोकर्ण नाथ सीट कर दिया गया। जहां से 2017 और 2022 में भाजपा के टिकट पर अरविंद विधायक चुने गए थे।​​​​​​​कार में हार्ट अटैक से हुई थी अरविंद गिरि की मौत । अरविंद गिरी ही गोला गोकर्ण नाथ सीट से भाजपा विधायक थे। उनकी मौत के बाद उपचुनाव हो रहा है। इस सीट से पांचवी बार विधायक बने अरविंद गिरि की मौत हार्ट अटैक से हुई थी। 6 सितंबर को कार में हार्ट अटैक से उनकी मौत हो गई थी।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

10,370FansLike
10,000FollowersFollow
1,120FollowersFollow

Latest Articles