13.1 C
New Delhi
Thursday, December 8, 2022

Kushinagar Nagar: आयुष्मान कार्ड बनाए जाने की प्रगति धीमी होने पर नाराज़गी जताई जिलाधिकारी ने

कुशीनगर (वेबवार्ता)- उत्तर प्रदेश के कुशीनगर के जिलाधिकारी रमेश रंजन की अध्यक्षता में कल देर रात कलेक्ट्रेट सभागार में आयुष्मान कार्ड बनाए जाने संबंधी समीक्षा बैठक संपन्न हुई। बैठक में जिलाधिकारी ने सभी प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों, नोडल अधिकारियों, आशा, एएनएम व आयुष्मान मित्र से जनपद में आयुष्मान कार्ड बनाए जाने की प्रगति के संदर्भ में विकासखण्ड वार व ग्राम पंचायत वार अद्यतन रिपोर्ट ली।जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को लक्ष्य के सापेक्ष आयुष्मान  कार्ड बनाए जाने की प्रगति की समीक्षा की। जनपद में आयुष्मान कार्ड बनाए जाने की प्रगति धीमी होने पर जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी से इस संदर्भ में पूछा तथा उन्होंने विभिन्न अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए ।

जिला पंचायत राज अधिकारी अभय यादव को पंचायत सहायकों की क्षेत्र में उपस्थिति हेतु कॉल सेंटर बनाए जाने का निर्देश दिया। मुख्य चिकित्सा अधिकारी सुरेश पटारिया को नियमित प्रातः 8:00 बजे की बैठक आयोजित कर प्रभारी चिकित्सा अधिकारी, आशा, ए एन एम की उपस्थिति एवं कार्यों को मॉनिटर किए जाने के निर्देश दिए।
 जिलाधिकारी ने कहा कि सभी संबंधित अधिकारी, आशा, ए एन एम व पंचायत सहायक मौके पर जाएं। उन्होंने कहा कि लाभार्थियों को चिन्हित करें, लोगों को जागरूक करें और आयुष्मान कार्ड बनाने में गति लावें।
जिलाधिकारी ने कहा कि यदि पंचायत सहायकों द्वारा कार्य में सहयोग नहीं किया जा रहा है या आयुष्मान कार्ड पात्र लाभार्थियों के संबंध में गलत डाटा भेजा जा रहा है तो उन पर आवश्यक कार्रवाई की जा सकती है। 
जिलाधिकारी ने  उप जिलाधिकारीगणों को निर्देशित करते हुए बताया कि आयुष्मान कार्ड के साथ-साथ समांतर रूप से अंत्योदय कार्ड भी बनाया जाए।  जन सुविधा केन्द्र की सहायता ली जाए। उन्होनें कहा कि ए आर ओ, सप्लाई इंस्पेक्टर आदि की टीम बुलाकर अंत्योदय कार्ड बनाए जाए। सभी उप जिलाधिकारी अपने क्षेत्र के सी एस सी के साथ बैठक करें व अंत्योदय कार्ड बनाने में सहयोग करें । उन्होंने कहा कि कोटेदारों से  सूची मंगाई जाए उसको वेरीफाई किया जाए व जन सुविधा केंद्र की सहायता से अंत्योदय कार्ड बनाएं जाए।
 जिलाधिकारी ने सभी खंड विकास अधिकारियों को निर्देशित करते हुए बताया कि उक्त कार्य में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका है। वे ग्राम प्रधान, पंचायत सहायक,व  कोटेदारों की टीम लगावे। जन जागरूकता अभियान में प्रातः 8:00 बजे से ही घर- घर अभियान चलावे। पात्र लोगों को चिन्हित करें । सुबह समय से काम शुरू हो। सभी प्रभारी चिकित्सा अधिकारी उन लोगों की सूची उपलब्ध करावे जो सहयोग नहीं कर रहे हो। पंचायत सहायक, आशा, एएनएम कार्य मे सहयोग नहीं कर रहे हैं तो उन पर कार्यवाही होगी।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी गुंजन द्विवेदी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी सुरेश पटारिया, सभी संबंधित अधिकारीगण, समस्त उप जिलाधिकारीगण, समस्त खंड विकास अधिकारी गण, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी व कर्मचारी गण मौजूद रहे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

10,370FansLike
10,000FollowersFollow
1,120FollowersFollow

Latest Articles