32.1 C
New Delhi
Tuesday, September 27, 2022

मां स्वस्थ होगी तो वर्तमान स्वस्थ रहेगा , देश का भविष्य सुरक्षित- मुख्यमंत्री योगी

लखनऊ

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बचपन व वर्तमान सुरक्षित है तो देश का भविष्य भी सुरक्षित है। धात्री महिलाओं, किशोरी कन्याओं व बच्चों को जोड़कर भारत के भविष्य को स्वस्थ व सक्षम बनाने में सभी योगदान दें। मां स्वस्थ होगी तो वर्तमान स्वस्थ रहेगा।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा, कन्या, बालक सुपोषित होगा तो हमारा बचपन स्वस्थ व समाज-राष्ट्र सशक्त होगा। शिक्षा व स्वास्थ्य समाज की बुनियादी आवश्यकताएं हैं। आधारशिला यहीं से खड़ी हो सकती है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को लोकभवन में राष्ट्रीय पोषण माह के अंतर्गत आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। कहा कि यूपी ने 5 वर्ष से पोषण माह को मिशन मोड पर लेकर बढ़ाया है। तकनीक से जुड़कर अधिक से अधिक लोगों तक शासन की इन योजनाओं का लाभ पहुंचाया है। कहा कि अच्छी व उत्तम शिक्षा बच्चे के सुनहरे भविष्य के साथ समाज व राष्ट्र की नींव को मजबूत करने का आधार बनता है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 60 हजार से अधिक महिला स्वयंसेवी समूहों को जोड़ा गया है। शराब बेचने वाले ईमानदारी से पोषाहार बेच रहे हैं। हर जनपद में नए प्लांट लग रहे हैं। पोषाहार व फूड को समुचित तरीके से पहुंचाया जा रहा है। सबसे बड़ी आबादी का राज्य चुनौतियों के बावजूद सफलता की कहानी कह रहा है। सीएम ने कहा कि 1.70 करोड़ बच्चे आंगनबाड़ी केंद्रों से अपना भविष्य सुरक्षित करते हैं। सक्षम बचपन से सक्षम जवानी आए, देश को प्रतिभावान नौजवान मिलें तो उसकी नींव मजबूत करने की जिम्मेदारी आपकी है। आंगनबाड़ी बहनें बच्चों को रोचक तरीके से अक्षर व शब्द ज्ञान कराती हैं। बचपन को उद्धरण के माध्यम से रोचक जानकारी देते हैं तो बच्चों की नींव मजबूत होती है।

सीएम ने बटन दबाकर 501 आंगनबाड़ी केंद्रों का लोकार्पण व 199 केंद्रों का शिलान्यास किया। पोषण मैन्युअल ‘सक्षम’ तथा विभाग की 5 वर्षों की उपलब्धियों की पुस्तिका ‘सशक्त आंगनबाड़ी’ का विमोचन किया। मुख्यमंत्री ने ‘सहयोग’ व ‘बाल पिटारा’ ऐप लांच किया। साथ ही ‘दुलार’ कार्यक्रम का शुभारंभ किया।

सीएम ने कहा कि 2017 में हमारी सरकार बनी तो उस समय 189000 आंगनबाड़ी केंद्रों में से कई के पास खुद का भवन नहीं था। उन सभी को चिह्न्ति कर 21700 केंद्रों के पक्के भवन बनाए गए। कोरोना में हमारी गति थोड़ी बाधित हुई अन्यथा सभी केंद्रों को प्री-प्राइमरी के रूप में आगे बढ़ा लिए होते।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

10,370FansLike
10,000FollowersFollow
1,125FollowersFollow

Latest Articles