14.1 C
New Delhi
Thursday, December 8, 2022

अयोध्या दीपोत्सव: PM मोदी की मौजूदगी में तरक्की के दीयों से रोशन होगी अयोध्या, लेजर शो से दिखेगी एनिमेटेड रामायण

रामनगरी में दीपोत्सव के कार्यक्रम में 17 लाख दीये जलाकर नया रिकॉर्ड बनाने की तैयारियां पूरी हो चुकी है तो वहीं दूसरी ओर विभिन्न देश समेत राज्यों से आए कलाकार सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुतियां दे रहे है। शाम को पीएम मोदी के आने के बाद दीपोत्सव का आगाज होगा।

अयोध्या(वेबवार्ता)-  उत्तर प्रदेश की रामनगरी अयोध्या में छोटी दिवाली यानी 23 अक्टूबर को 17 लाख दीये जलाकर नया रिकॉर्ड बनाया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहली बार दीपोत्सव कार्यक्रम में शामिल हो रहे है। राज्य के भव्य छठें दीपोत्सव में बतौर मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचकर गुरु वशिष्ठ की भूमिका में भगवान श्रीराम का प्रतीकात्मक राज्याभिषेक भी करेंगे। ऐसा बताया जा रहा है कि पीएम मोदी भव्य राम मंदिर के निर्माण स्थल का भी निरीक्षण करेंगे। उसके बाद साढ़े छह बजे वह सरयू तट पर होने वाली आरती में भी शामिल होंगे। राज्याभिषेक व आरती को करने के बाद पीएम मोदी द्वारा भव्य दीपोत्सव का शुभारंभ किया जाएगा। वहीं दूसरी ओर रामलला की पोशाक भी बनकर तैयार हो गई है, जिसका रंग गुलाबी है। पीएम मोदी के आगमन के बाद रामलला को ड्रेस को धारण कराया जाएगा।

आठ देशों और 10 राज्यों की रामलीला की हो रही प्रस्तुतियां
छठवें दीपोत्सव की तैयारियों में 8 देशों और 10 प्रदेशों की रामलीला और लोक नृत्य की मनमोहक प्रस्तुतियां हो रही है। जिसमें 8 देशों के 120 कलाकारों समेत 2020 कलाकार हिस्सा ले रहे हैं। 23 अक्टूबर को राम की पैड़ी पर 17 लाख दीपक जगमगाएंगे। इन आठ देशों में रूस, श्रीलंका, इंडोनेशिया, मलेशिया, थाइलैंड, फिजी, नेपाल और त्रिनिडाड व टोबैगो के कलाकार प्रमुख शामिल हैं। वहीं श्रीरामजन्मभूमि समेत अन्य जगहों पर 3 लाख 54 हजार से अधिक दीपक जलेंगे। भगवान श्रीराम की अयोध्या के गौरव को दीपोत्सव के रूप में मान देने वाले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विदेशों के कलाकारों को भी प्रभु राम के आदर्शों को जीवन में उतारने के लिए उनकी रामलीला को रामनगरी में वैश्विक मंच दिया है। साल 2017 से शुरू हुए दीपोत्सव में विदेशी कलाकारों की रामलीला का भी अयोध्या और देशवासियों से साक्षात्कार कराया। उनके द्वारा उठाए गए इस कदम के बाद विदेशी काफी प्रशंसा कर रहे हैं। योगी सरकार ने उन्हें भारत में मंच दिलाया और उनकी पहली प्रस्तुति 4 से 6 नवंबर 2018 में अयोध्या दीपोत्सव में दी थी।

66 परियोजनाओं के लोकार्पण की हो रही तैयारी
पर्यटन और सूचना विभाग की ओर से इस बार 16 झांकियां निकल रही हैं। जिसमें से पर्यटन विभाग की ओर से खुले ट्रकों में 5 डिजिटल झांकियां भी निकाली जााएंगी। सभी झाकियां रामायणकालीन दृश्यों पर आधारित होंगी, जिसमें राम मंदिर का मॉडल और 2047 का अयोध्या का विकास का मॉडल पेश किया जाएगा। डॉ राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के 20 हजार वालंटियर ने राम की पैड़ी सहित सभी घाटों पर 17 लाख दीए बिछाने का लक्ष्य पूरा कर लिया है। दीपोत्सव समारोह में सांस्कृतिक कार्यक्रमों की शुरुआत हो गई है। जगह-जगह विभिन्न स्थानों से आए लोक कलाकारों की मंडली अपने कार्यक्रमों की प्रस्तुति दे रही है। पूरा माहौल भक्तिमय बना हुआ है। पीएम मोदी करीब चार घंटे अयोध्या में रहेंगे और सरकार की ओर से बड़ा दिवाली गिफ्ट भी देंगे। दीपोत्सव के मौके पर पीएम मोदी करीब चार हजार करोड़ की लागत वाली 66 परियोजनाओं का लोकार्पण की भी तैयारी है।

एक किलोमीटर दूर खड़ा व्यक्ति भी ले पाएगा आनंद
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 15 मिनट की डिजिटल एनिमेटेड रामायण देखेंगे। दीपोत्सव के कार्यक्रम में थ्री-डी लेजर शो का पूरा जिम्मा यूपी टूरिज्म विभाग ने दिल्ली की मार्डन स्टेज कंपनी को दिया है। कुल 25 छोटे-बड़े प्रोजेक्टर की मदद से राम, लक्ष्मण, सीता के प्रसंग और रावण वध और फिर अयोध्या आगमन के सीन लोगों के सामने प्रस्तुत होंगे। इस बार लेजर शो खास तरीके की मशीनों के द्वारा दर्शाया जाएगा। इस तकनीक का इस्तेमाल गुजरात मोढेरा ग्राउंड में शो के दौरान किया गया था। खास बात तो यह है कि एक किलोमीटर दूर खड़ा व्यक्ति भी रामकथा को आसानी से देख सकता है, एक प्रोजेक्टर की कीमत 40 लाख रुपए है। पिछले बार के दीपोत्सव कार्यक्रम में लैंप प्रोजेक्टर लगते थे लेकिन पहली बार 2000 लूमेन कैपिसिटी के लेजर प्रोजेक्टर लगाए गए हैं। इतना ही नहीं 400 मूविंग हेड और 600 LED वॉल्स लगाए गए हैं।

दो करोड़ रुपए के टेंडर में हुआ है लेजर शो
छठें दीपोत्सव कार्यक्रम में दो स्क्रीन अलग से लगाई गई है। इसकी खास बात तो यह है कि रामायण से जुड़ी हुई सभी चित्रों को अलग से देखने को मिलेगा। लेजर लाइट शो में करीब 150 लोगों की टीम है। बीते तीन दिनों में पूरे लेजर लाइट शो को ट्रायल के रूप में चला रहे है। छोटी दीपावली से लेकर अगले 4 दिनों तक लेजर शो का होता रहेगा। पिछले पांच सालों में लेजर शो हो रहा है, जिसका टेंडर होता है। लेजर शो का टेंडर करीब 2 करोड़ रुपए का किया गया है। शो के दौरान जो भी चीजें जरूरी होती है, उसको उपयोग किया जाता है। एनिमेटेड लेजर शो में जो फिल्म दिखाई जाएगी वह ऑस्ट्रेलिया से आए हुए एनिमेटेड एक्सपर्ट ने तैयार की है। करीब 15 मिनट के डिस्प्ले रामायण में ऐसा दृश्य होगा जिसमें राम के जन्म से लेकर रावण वध और राम के अयोध्या वापस लौटने के बाद, क्यों दीपावली मनाई जाती है इन सभी की पूरी जानकारी होगी।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

10,370FansLike
10,000FollowersFollow
1,120FollowersFollow

Latest Articles