कानपुर कांड के बाद ऐक्शन में योगी की पुलिस, तेजी से चलाया जा रहा ‘ऑपरेशन क्लीन’

New Delhi: कानपुर मामले में उत्तर प्रदेश पुलिस और सरकार की किरकिरी के बाद अब बदमाशों पर पलटवार की तैयारी है। योगी सरकार ने ऑपरेशन क्लीन (Operation Clean) शुरू किया है। यूपी के टॉप बदमाशों की अब सरकार अच्छे से खबर लेगी।

एनसीआर के नोएडा और ग्रेटर नोएडा में तो पुलिस एक्शन (Operation Clean) में आ गई है और गैंगस्टरों पर शिकंजा कस दिया गया है। भदोही से 50 हजार के इनामी बदमाश को ढ़ेर कर दिया है, वहीं सुंदर भाटी समेत कई अपराधियों की अवैध संपत्ति को भी कुर्क किया जा रहा है।

50 हजार का ईनामी बदमाश ढ़ेर

भदोही पुलिस अधीक्षक आरबी सिंह के अनुसार सोमवार की रात तक़रीबन 1:30 बजे जब थानाध्यक्ष सुरियावां व स्वाट प्रभारी चकिया तिराहे पर चेकिंग कर रहे थे। इस दौरान दो अज्ञात व्यक्ति मोटरसाइकिल से आते दिखाई दिए।

पुलिस उन्हें रोकने का प्रयास किया तो बदमाश पुलिस पार्टी पर ताबड़तोड़ गोलियां चलानी शुरू कर दी। पुलिस द्वारा की गई जवाबी कार्यवाही में 50 हजार का इनामियां दीपक उर्फ रवि मारा गया। उस पर 50 हजार का ईनाम था।

नोएडा में पुलिस ने मुठभेड़ के बाद बदमाश दबोचा

डीसीपी ग्रेटर नोएडा राजेश कुमार सिंह ने बताया कि मिर्जापुर सर्विस रोड़ पर जांच के दौरान कुछ संदिग्ध लोग मोटरसाइकिल पर आते हुए दिखाई दिये। पुलिस टीम ने जब उन्हे रोकना चाहा तो वे फायरिंग कर भागने लगे।

उन्होंने बताया कि जवाबी कार्रवाई करते हुए पुलिस ने भी गोली चलाई। पुलिस द्वारा चलाई गई गोली प्रवीण नामक बदमाश के पैर में लगी। घायल अवस्था में उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने बताया कि उक्त बदमाश के ऊपर आधा दर्जन से ज्यादा मुकदमे विभिन्न थानों में दज् हैं।पुलिस ने बदमाश के कब्जे से चोरी की स्पलेंडर मोटरसाइकिल, एक देशी तमंचा 315 बोर, व कारतूस बरामद किया है।

2 दिन में बदमाशों की 11 करोड़ की संपत्ति जब्त

कानपुर गोलीकांड के बाद पुलिस ने गौतमबुद्ध नगर के ग्रेटर नोएडा में बदमाशों के खिलाफ एक्शन लिया है। पुलिस ने कुख्यात बदमाश सुंदर भाटी पर शिकंजा कसा है। पुलिस ने कुख्यात बदमाश सुंदर भाटी के अवैध निर्माण को ध्वस्त कर दिया है।

कुख्यात बदमाश सुंदर भाटी नोएडा, गाजियाबाद समेत पश्चिमी उत्तर प्रदेश में सक्रिय था। बदमाश सुंदर भाटी की पुलिस और नेताओं से भी अच्छी सांठ-गांठ है, लेकिन कानपुर गोलीकांड के बाद से योगी सरकार एक्शन में है और सूबे में अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

इन गैंगस्टरों के खिलाफ भी जल्द ही होगी कुर्क की कार्रवाई

वहीं डीसीपी राजेश सिंह ने बताया कि कुख्यात गैंगस्टर अनिल दुजाना के गैंग के सक्रिय सदस्य सुमित नागर और चंद्रपाल प्रधान की चल अचल संपत्ति, विदेशी कारें, बस, ट्रैक्टर भी आज गैंगस्टर एक्ट की धारा 14 के तहत कुर्ग की गई है। यह संपत्ति भी करीब 4 करोड़ रुपए की है।

उन्होंने बताया कि इस गैंग के लोग भी लूट, हत्या, चौथ वसूली आदि के कार्य में संलिप्त हैं। उन्होंने कहा कि अपराध से धन अर्जित कर के अकूत संपत्ति बनाने वाले गैंगस्टरों के खिलाफ पुलिस की कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी। उन्होंने ये भी बताया कि जनपद के कुछ और गैंगस्टरों खिलाफ जल्द ही धारा 14 के तहत कुर्क की कार्रवाई की जाएगी।

सीएम योगी ने पुलिस को दी पूरी छूट

यूपी के टॉप बदमाशों की लिस्ट तैयार की गई है। माफिया मुख्तार अंसारी का नाम इसमें सबसे ऊपर है। मुख्तार अंसारी की पचास अवैध संपत्तियां जब्त हो चुकी हैं। उसके अवैध कारोबार को नेस्तनाबूद किया गया है। मुख्तार अंसारी के सौ लोगों पर गैंगस्टर एक्ट लगाया गया है।

अतीक अहमद भी पुलिस के निशाने पर है। खुद यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के आला अधिकारियों को माफिया और गैंगस्टरों पर हल्ला बोल के सख्त निर्देश दिए हैं। पुलिस को खुली छूट दी गई है। मकसद एक ही है, हर हाल में किसी भी हालत में बड़े अपराधियों पर पूरी तरह से नकेल कसनी है। इसके लिए यूपी पुलिस ने ऑपरेशन क्लीन शुरू किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *