कोरोना को फैलने से रोकने के लिए युवा करें टैस्ट, ट्रेस और ट्रीट के संदेश का प्रचार : चौधरी संतोख सिंह

Chaudhary Santokh Singh

-एम.पी., विधायकों, मेयर और डिप्टी कमिश्नर ने ‘मिशन फतेह 2.0’ के अंतर्गत ‘आई एम वैक्सीनेटिड’ स्टिक्कर और बैच जारी किए

जालंधर, 28 मई (अश्विनी ठाकुर)। मैंबर पार्लियामेंट जालंधर चौधरी संतोख सिंह ने युवाओं से अपील की कि तीन-टी (टैस्ट, ट्रेस और ट्रीट) के संदेश को जालंधर के हर कोने -कोने तक पहुँचाया जाए, जिसको मुख्यमंत्री पंजाब कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने आज कोरोना वायरस लड़ाई में अधिक से अधिक युवाओं को शामिल करने के उदेश्य के अंतर्गत उनके साथ वर्चुअल तौर पर रूबरू होते हुए इस नारे को और आगे बढ़ाया।

मैंबर पार्लियामेंट चौधरी संतोख सिंह जिनके साथ विधायक सुशील कुमार रिंकू, राजिन्दर बेरी, मेयर जगदीश राजा और डिप्टी कमिश्नर जालंधर घनश्याम थोरी भी मौजूद थे, ने कहा कि युवाओं की सक्रिय भागीदारी से कोरोना वायरस को गांवों में फैलने से रोका जा सकता है। उन्होनें कहा कि कोरोना वायरस सम्बन्धित टैस्ट, पाजिटिव व्यक्ति के संपर्क में आए लोगों की जल्द पहचान और इलाज (टैस्ट, ट्रेस और इलाज) ही गाँवों को कोरोना वायरस महामारी के बुरे प्रभावों से बचाने का एक-मात्र रास्ता है। उन्होंने यह भी बताया कि गाँवों में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए हर गाँव में सात ग्रामीण कोरोना वलंटियरों (आर.सी.वीज़) के ग्रुप बनाए जाएंगे।

इस अवसर पर ‘आई एम वैक्सीनेटिड’ के स्टिक्करज़ और बैच भी जारी किये गए, जिनको ज़िले में कोविड वैक्सीन लगाने को उत्साहित करने के लिए उन लोगों के व्हीकलों पर लगाया जायेगा, जिन्होंने कोविड वैक्सीन लगवा ली है। उन्होनें कहा कि ग्रामीण कोरोना वालंटियर अपने-अपने गांवों में जा कर लोगों को समय पर कोविड का टैस्ट करवाने और वैक्सीन लगाने प्रति जागरूक करेगें। डिप्टी कमिश्नर घनश्याम थोरी ने कहा कि ज़िला प्रशासन की तरफ से ज़िले में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए हर संभव प्रयत्न किये जा रहे हैं, जिससे महामारी के केस दिन प्रति दिन कम हो रहे है।