ED का दावा- दिल्ली में दं’गे भ’ड़का’ने के लिएताहिर हुसैन को ‘संदिग्ध कंपनियों’ से मिला था पैसा

New Delhi: प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने सोमवार को कहा कि आम आदमी पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन (Tahir Hussain) को ‘सं’दिग्ध कंपनियों’ और हवाला ऑपरेटरों से नकद पैसा मिला था जिसका इस्तेमाल फरवरी में दिल्ली में सीएए-विरोधी प्रदर्शन और दं’गे भ’ड़का’ने के लिए किया गया।

केंद्रीय जांच एजेंसी ने हुसैन (Tahir Hussain) को पिछले सप्ताह गिरफ्तार किया था और एक स्थानीय अदालत ने 28 अगस्त को उसे 6 दिन के लिए ED की हिरासत में भेज दिया था। इस बीच BJP ने ताहिर हुसैन के बहाने आम आदमी पार्टी पर हमला बोला है।

ईडी ने PMLA के तहत ताहिर को किया है गिरफ्तार

एजेंसी सोमवार को उसे (Tahir Hussain) पूछताछ के लिए तिहाड़ जेल से अपने दफ्तर लाई। ED ने कहा कि ताहिर हुसैन को मनी लॉन्ड्रिंग और सिटिजनशिप अमेंडमेंट ऐक्ट (सीएए) विरोधी प्रदर्शन के साथ-साथ फरवरी 2020 में उत्तर-पूर्वी दिल्ली में दं’गे कराने के लिए फंडिंग करने में भूमिका की जांच के लिए प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग ऐक्ट (PMLA) के तहत गिरफ्तार किया गया है।

जांच एजेंसी ने दं’गों की जांच के सिलसिले में दिल्ली पुलिस की अप’राध शाखा ने जो अलग-अलग एफआईआर दर्ज की हैं, उनका अध्ययन करने के बाद हुसैन और अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया था।

दं’गे भ’ड़का’ने के लिए संदिग्ध कंपनियों से ताहिर को मिले थे पैसे: ED

ईडी ने एक बयान में कहा, ‘जांच में खुलासा हुआ कि ताहिर हुसैन (Tahir Hussain) और उसके रिश्तेदारों के स्वामित्व व नियंत्रण वाली कंपनियों ने बड़ी मात्रा में धन संदिग्ध कंपनियों और हवाला ऑपरेटरों को ट्रांसफर किया जिन्होंने इसे कैश के रूप में लौटा दिया।’ इसने कहा, ‘हवाला ऑपरेटरों से हुसैन को मिले धन का इस्तेमाल दिल्ली में सीएए-विरोधी प्रदर्शन और दं’गे भड़’काने के लिए किया गया।’

BJP का केजरीवाल पर ताहिर हुसैन को बचाने की कोशिश का आरोप

इससे पहले दिल्ली दं’गों में मनी लांड्रिंग की जांच कर रही ईडी की कस्टडी में ताहिर हुसैन (Tahir Hussain) के जाने के बाद बीजेपी ने उसके बैंक खातों की जांच की मांग उठाई है। बीजेपी ने कहा है कि दं’गों के पहले और बाद में ताहिर हुसैन के बैंक खातों से हुए लेन-देन की जांच से फंडिंग का खुलासा होगा। ईडी जांच कर जल्द ही सारे राज से पर्दा हटाएगा।

बीजेपी ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) पर ताहिर हुसैन (Tahir Hussain) को बचाने का आरोप लगाया है। कहा है कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दिल्ली दं’गों के मास्टरमाइंड ताहिर हुसैन पर एक शब्द भी नहीं बोल रहे हैं। आखिर ये रिश्ता क्या कहलाता है?

दिल्ली बीजेपी के मीडिया रिलेशंस हेड नीलकांत बख्शी ने कहा कि कानून से ऊपर कोई नहीं है। ताहिर हुसैन अपने कर्मों की सजा भुगत रहे हैं। दिल्ली के दं’गों के पीछे फंडिंग हुई थी। ऐसे में ताहिर हुसैन के बैंक खातों से हुए लेन-देन बड़े राजफाश कर सकती है।

पहले भी मनी लॉन्ड्रिंग में शामिल रहा है ताहिर हुसैन: ED

ईडी की जांच में यह भी पता चला कि ताहिर हुसैन और उसकी कंपनियां पहले भी मनी लॉन्ड्रिंग में शामिल रही हैं। इसने पिछले 23 जून को हुसैन और उसके रिश्तेदारों के दिल्ली, नोएडा और ग्रेटर नोएडा स्थित परिसरों पर छापेमारी की थी।

ईडी ने कहा, ‘छापों के दौरान फर्जी लेनदेन के कागजों सहित अन्य दस्तावेजी साक्ष्य मिले थे जिनका इस्तेमाल फर्जी तरीके से धन के हस्तांतरण में किया गया।’ हुसैन को उत्तर-पूर्वी दिल्ली में दं’गों के मामले में पहले दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था। दं’गों में कम से कम 53 लोग मा’रे गए थे और करीब 200 अन्य घा’यल हुए थे।