‘आलाकमान के निर्देश पर गिराई कमलनाथ सरकार’, शिवराज के वायरल ऑडियो पर कांग्रेस आगबबूला

New Delhi: सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) सोमवार को इंदौर दौरे पर थे। सोमवार की शाम को शिवराज ने सांवेर उपचुनाव को लेकर स्थानीय नेताओं के साथ बैठक की थी। बैठक में मीडिया की एंट्री नहीं थी। अब शिवराज सिंह चौहान का एक ऑडियो वायरल है।

वायरल ऑडियो में वह नेताओं को संबोधित कर रहे हैं। शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) अपने संबोधन में कांग्रेस छोड़कर आए, जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट को जीताने की अपील कर रहे हैं। चौहान कह रहे हैं कि अगर तुलसी नहीं जीतेंगे, तो हम सीएम रहेंगे क्या।

वायरल ऑडियो क्लिप में सीएम शिवराज यह भी कह रहे हैं कि आलाकमान के निर्देश पर हमने एमपी में कमलनाथ की सरकार गिराई। मंत्री पद का मोह त्याग कर तुलसी भाई और ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी इसमें साथ दिया है।

सीएम शिवराज सभा में मौजूद लोगों से यह सवाल भी करते हैं कि क्या ज्योतिरादित्य सिंधिया और तुलसी सिलावट के बिना सरकार गिर सकती थी। आज मैं फिर से दोनों नेताओं का स्वागत करता हूं। सीएम के संबोधन का यह ऑडियो क्लिप अब सोशल मीडिया पर वायरल है। वायरल ऑडियो की पुष्टि एनबीटी नहीं करता है। शिवराज के कथित कबूलनामे पर कांग्रेस ने बीजेपी पर हमला किया है।

बीजेपी की थी साजिश

शिवराज के वायरल ऑडियो पर कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने कहा है कि एमपी में कांग्रेस की सरकार गिराने में बीजेपी का केंद्रीय नेतृत्व भी इस साजिश और षड्यंत्र में शामिल था। सरकार गिराने में सिंधिया की मदद इसलिए ली गई, क्योंकि उनके बिना सरकार नहीं गिर सकती थी। इसी से समझा जा सकता है कि कांग्रेस में कोई असंतोष नहीं था।

पूर्व मंत्री ने किया हमला

पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने भी वायरल ऑडियो पर हमला किया है। सज्जन सिंह वर्मा ने कहा है कि ‘बेशर्म मामा’ ने अब तो सबके सामने मान लिया है कि उन्होंने केंद्रीय नेतृत्व के कहने पर सिंधिया और तुलसी जैसे बिकाऊ नेताओं के साथ मिलकर जनता के द्वारा चुनी हुई कमलनाथ सरकार को गिराई। भाजापा की नीति अब सबके सामने आ चुकी है। राजनीति को कलंकित करने वालों का पर्दाफाश हो चुका है।

कौन हैं तुलसी सिलावट

वायरल ऑडियो में सीएम शिवराज सिंह चौहान मंत्री तुलसी सिलावट को जीताने की अपील कर रहे हैं। तुलसी सिलावट सांवेर से विधायक थे और कमलनाथ की सरकार में स्वास्थ्य मंत्री थे। ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ इस्तीफा देकर उन्होंने बीजेपी की सदस्यता ग्रहण की है। शिवराज सरकार में सिलावट जल संसाधन मंत्री हैं। सांवेर विधानसभा सीट से उपचुनाव में बीजेपी के उम्मीदवार होंगे। वहीं, सांवेर सीट पर कांग्रेस भी तुलसी को हराने के लिए जोर लगा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *