कांग्रेस नेताओं के सामने घुटने टेककर जोड़े हाथ जोड़े, सरकार ‘चिढ़ी’, दोनों अफसर नपे

New Delhi: कांग्रेस नेताओं के सामने के घुटने टेकने वाले एसडीएम और सीएसपी (SDM and CSP Transfer) पर गाज गिरी है।

दोनों अधिकारियों (SDM and CSP Transfer) ने शनिवार के कांग्रेस नेताओं के सामने घुटने टेके नजर आए थे। उसके बाद दोनों का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल था। इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह ने जब इस वीडियो को देखा तो उन्हें खराब लगा। अब दोनों अफसरों का तबदला हो गया है।

दरअसल, एमपी के पूर्व मंत्री जीतू पटवारी समेत कांग्रेस के 3 विधायकों के सामने जमीन पर घुटने टेककर उनसे धरना खत्म करने की मान-मनुहार करना एसडीएम और सीएसपी (SDM and CSP Transfer) को महंगा पड़ गया है।

दोनों अधिकारियों का तबादला कर दिया है। शनिवार देर रात जारी आदेशों में एसडीएम राकेश शर्मा और सीएसपी डीके तिवारी को मैदानी तैनाती से हटाते हुए उनका तबादला तत्काल प्रभाव से भोपाल कर दिया गया है।

एसडीएम को सामान्य प्रशासन विभाग में डिप्टी कलेक्टर के पद पर तैनात किया गया है, जबकि तिवारी को पुलिस मुख्यालय में डीएसपी के पद पर तैनात किया गया है।

शनिवार को एसडीएम और सीएसपी शनिवार को राजबाड़ा स्थित धरनास्थल पर पहुंचे थे। वहां उन्होंने घुटने टेककर पटवारी और 2 अन्य कांग्रेस विधायकों से बात की थी। दोनों अधिकारियों ने इसी मुद्रा में तीनों विधायकों से अनुरोध किया था कि वे धरना खत्म कर दें।

सोशल मीडिया पर इस वाकये का वीडियो वायरल होने के बाद बीजेपी के कई नेताओं ने दोनों अधिकारियों के आचरण पर आपत्ति जताई थी। धरने के दौरान कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया था कि कोविड-19 के प्रकोप से निपटने में राज्य सरकार नाकाम रही है और जनता को उसके हाल पर छोड़ दिया गया है।

सांसद भी थे नाराज

अधिकारियों की तस्वीर देख इंदौर सांसद शंकर लालवानी भी नाराज हुए थे। बताया जा रहा है कि सांसद ने इसकी शिकायत सीएम से भी की थी। वहीं, शनिवार को कलेक्टर ने भी एसडीएम के इस बर्ताव पर नोटिस जारी किया था। उन्होंने कहा था कि मुझे वीडियो देख यह खराब लगा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *