भारत में ‘जय श्री राम’ बोलने पर हत्‍या हो रही है और अमित शाह बंगाल चुनाव में लगे: मनीष सिसोदिया

Webvarta Desk: रिंकू शर्मा मर्डर केस (Rinku Sharma Case) को लेकर आम आदमी पार्टी (AAP) ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) पर निशाना साधा है। दिल्‍ली के डेप्‍युटी सीएम मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने गुजरात के सूरत में कहा कि “देश में ‘जय श्री राम’ बोलने पर लोगों की हत्‍या कर दी जा रही है और सुरक्षा के लिए जिम्‍मेदार अमित शाह लोगों की बिल्‍कुल चिंता नहीं कर रहे हैं और (पश्चिम) बंगाल के चुनाव की चिंता कर रहे हैं।”

सिसोदिया (Manish Sisodia) ने पूछा कि अगर कोई हमारे देश में ‘जय श्री राम’ नहीं बोलेगा तो क्‍या पाकिस्‍तान में बोलेगा? उन्‍होंने कहा, “बीजेपी के राज में ये कैसे दिन आ गए हैं कि जय श्री राम बोलने पर लोगों की हत्‍या हो जा रही है।”

सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा, “जिन अमित शाह जी के अंडर में दिल्‍ली पुलिस आती है, वो देश के गृह मंत्री कहां गायब हैं? वो जिम्‍मेदारी क्‍यों नहीं ले रहे कि मैं फेल हो गया। जय श्री राम बोलने वालों की रक्षा करने में अमित शाह जी फेल हो गए हैं और वे जिम्‍मेदारी नहीं ले रहे हैं, इस बात से आहत हैं।”

राघव चड्ढा ने भी बोला था हमला

रविवार को AAP प्रवक्‍ता राघव चड्ढा ने भी बीजेपी पर निशाना साधा था। एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में चड्ढा ने कहा कि “रिंकू शर्मा का परिवार कह रहा है कि जय श्रीराम का नारा लगाने की वजह से उसकी हत्या की गई। इसकी पूर्ण रूप से जांच होनी चाहिए और दोषियों को दंड मिलना चाहिए। क्या जय श्रीराम का नारा लगाना अब सुरक्षित नहीं रह गया है? भाजपा के शासन में हिंदू सुरक्षित नहीं हैं।”

चड्ढा ने कहा, ‘मैं केंद्रीय गृह मंत्री से पूछता हूं, वह रिंकू शर्मा के परिजनों से मिलने क्यों नहीं गए? कानून व्यवस्था उनके अधिकार क्षेत्र में है। दिल्ली में जब ऐसी घटना हुई है तब क्या उन्हें बंगाल में चुनाव प्रचार करना शोभा देता है? पुलिस आयुक्त शर्मा के परिवार वालों से मिलने क्यों नहीं गए?’

बीजेपी ने AAP पर साधा था निशाना

विश्‍व हिंदू परिषद (VHP) ने दिल्‍ली पुलिस को तीन दिन के भीतर सभी आरोपियों को पकड़ने की डेडलाइन दी है। वहीं, भाजपा ने केजरीवाल सरकार पर तुष्टीकरण का आरोप लगाते हुए अब तक पीड़ित परिवार से न मिलने पर सवाल उठाए हैं।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने शनिवार को कहा था, “मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगोलपुरी में मारे गए रिंकू शर्मा के परिवार से अब तक नहीं मुलाकात की है। रिंकू शर्मा की कुछ अपराधियों ने गत दस फरवरी को चाकू मारकर हत्या कर दी थी। पीड़ित परिवार के सदस्य न्याय मांगने के लिए केजरीवाल के निवास पर गए, लेकिन वहां से उन्हें भगा दिया गया। मुख्यमंत्री ने मिलने से इनकार कर दिया।”