पायलट के 3 विधायक बदलेंगे पाला! राजस्थान के सियासी संकट में 3 नए ट्विस्ट

New Delhi: Rajasthan Political Twists: राजस्थान में जारी राजनीतिक संग्राम में 3 बड़े अपडेट आए हैं। बीएसपी विधायकों के कांग्रेस में विलय को लेकर दायर याचिका हाईकोर्ट में निस्तारित कर दिया गया है।

उधर, राजस्थान हाई कोर्ट में एक जनहित याचिका दायर कर राज्यपाल कलराज मिश्र को पद से हटाने की मांग की है। इसके अलावा रणदीप सुरजेवाला ने दावा किया है कि सचिन पायलट का साथ दे रहे 3 विधायक लौटने वाले हैं।

राज्यपाल को हटाने की याचिका

राजस्थान के राज्यपाल को उनके पद से हटाने के लिए सोमवार को राजस्थान हाई कोर्ट में एक जनहित याचिका दायर की गई है। इस जनहित याचिका में कहा गया है कि राज्यपाल कलराज मिश्र (Kalraj Mishra) ईमानदारी से अपने पद का निर्वहन नहीं कर रहे हैं। यह जनहित याचिका एडवोकेट शांतनु पारीक ने दायर की है। यहां बता दें कि राजस्थान में अशोक गहलोत की सरकार विधानसभा का सत्र बुलाना चाहती है, लेकिन राज्यपाल ने इसकी इजाजत नहीं दी है।

पायलट गुट के 3 विधायक लौटेंगे

सूत्रों के हवाले से दावा किया जा रहा है कि सचिन पायलट के साथ खड़े 19 विधायकों में से 3 दोबारा से गहलोत खेमे के साथ लौट आएंगे। होटर फेयरमाउंट में कांग्रेस विधायकों को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि अगले 48 घंटे में 3 विधायक गहलोत के साथ आए जांएगे। हालांकि इसपर अभी तक इसपर स्पष्ट कुछ नहीं आया है।

मदन दिलावर की याचिका को हाई कोर्ट ने खारिज किया

बीएसपी के 6 विधायकों की कांग्रेस में विलय को लेकर दायर याचिका खारिज हो गई है। राजस्थान हाई कोर्ट ने इस याचिका को आधारहीन बताया है। पूर्व मंत्री मदन दिलावर की ओर से दायर याचिका में कहा गया था कि विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने कांग्रेस में विलय के लिए बसपा के छह विधायकों को अयोग्य ठहराने की उनकी याचिका पर कोई कार्रवाई नहीं की है।

इस मामले में मदन दिवावर की ओर से राजस्थान हाई कोर्ट में याचिका लगाई गई थी जो खारिज हो गई है। इस मामले में बीएसपी ने भी खुद को पार्टी बनाने के लिए याचिका दायर की थी, लेकिन हाई कोर्ट ने उसे भी इनकार कर दिया है। अब अगर बीएसपी काई याचिका दायर करना चाहती है तो उसे नये सिरे से प्रयास करना होगा।

सीएम गहलोत ने की पीएम से राज्यपाल की शिकायत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से फोन पर बात की है। इस दौरान सीएम गहलोत ने राज्यपाल कलराज मिश्र की कार्यप्रणाली की शिकायत की है। हालांकि यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि पीएम ने इस शिकायत पर क्या कहा है। सीएम ने खुद पत्रकारों को बताया कि उन्होंने राज्यपाल की शिकायत पीएम से की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *