Rajasthan Crisis: राजस्थान हाईकोर्ट में सचिन पायलट खेमे की याचिका पर सुनवाई टली

New Delhi: राजस्थान में सियासी घमासान जारी है। इस बीच राजस्थान विधानसभा अध्यक्ष सी. पी. जोशी की ओर से कांग्रेस के बागी विधायकों को भेजे गए नोटिस पर सचिन पायलट (Sachin Pilot) खेमे ने राजस्थान हाईकोर्ट की शरण ली है।

हाईकोर्ट में पायलट खेमें ने याचिका दाखिल कर (sachin pilot supporter mla plea in rajasthan high court) स्पीकर की ओर से भेजे गए नोटिस पर सवाल किया है। नोटिस मामले की सुनवाई करते हुए राजस्थान हाईकोर्ट ने आज के लिए सुनवाई को टाल दिया है। अब इस मामले पर सुनवाई शुक्रवार को हो सकती है।

नोटिस मामले की अगली सुनवाई खंडपीठ करेगी

इससे पहले जब दोपहर तीन बजे सुनवाई शुरू हुई तो नोटिस को रद्द करने की मांग की गई। लेकिन इस मामले में सचिन पायलट (Sachin Pilot) खेमे को कोई भी राहत नहीं मिली, जिसके बाद पायलट खेमे के वकील हरीश साल्वे की ओर से हाईकोर्ट से समय मांगा गया।

हाईकोर्ट ने आगे की सुनवाई कल तक के लिए टाल दी है। इस बीच जानकारी ये भी आ रही है कि नोटिस मामले की अगली सुनवाई खंडपीठ करेगी, जिसके लिए हाईकोर्ट एक बैंच का गठन करेगा।

स्पीकर की ओर से पायलट खेमें को भेजा गया है नोटिस

दरअसल कांग्रेस की ओर से जारी व्हिप (whip by rajasthan congress) और स्पीकर की ओर से भेजे नोटिस को लेकर पायलट खेमा लगातार इसके कानूनी महत्व पर सवाल उठा रहा है। साथ ही इस मामले में यह जानकारी भी मिल रही थी कि नोटिस के कानूनी पहलूओं को जानने के लिए सचिन पायलट और उनके साथी लगातार कानून के जानकारों से संपर्क बना रहे थे। इधर बीजेपी भी कांग्रेस को नोटिस मामले में घेरने की कोशिश कर रही हैं।

यह भी जानकारी मिली है कि इस मामले में स्पीकर सी.पी. जोशी की ओर से कांग्रेसी नेता और जाने-माने वकील अभिषेक मनु सिंघवी (abhishek manu singhvi) पैरवी कर रहे हैं। वहीं पायलट खेम की ओर से हरिश साल्वे मामले की पैरवी कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *