दिल्ली के सरकारी बंगले को खाली कर गुरुग्राम के घर में शिफ्ट होंगी प्रियंका गांधी

New Delhi: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) वाड्रा को इस महीने के अंत तक सरकारी आवास खाली करना है। वह दिल्ली के 35, लोधी एस्टेट के सरकारी बंगले को खाली करके गुरुग्राम के सेक्टर 42 स्थित डीएलएफ अरालिया स्थित अपने घर में शिफ्ट होंगी। उनके गुरुग्राम में शिफ्टिंग को लेकर तैयारियां हो रही हैं। कुछ दिनों गुरुग्राम में रहने के बाद वह नई दिल्ली में एक किराए के घर में शिफ्ट होंगी।

प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के करीबी सूत्रों ने बताया कि वह गुरुग्राम के घर में अस्थाई तौर पर शिफ्ट होंगी। फिलहाल दिल्ली में ही कोई किराए का घर देख रही हैं। उन्होंने दो से तीन जगहें भी देखी हैं उनमें से कोई एक फाइनल हो सकता है।

दिल्ली में किराए के घर पर चल रहा काम

बताया जा रहा है कि प्रियंका (Priyanka Gandhi) ने जो घर किराए के देखे हैं उनमें से वह नई दिल्ली के सुजान सिंह पार्क के पास वाला घर फाइनल कर सकती हैं। वहां पर काम तेजी से चल रहा है। यहां पर घर की मरम्मत में एक दो महीने लग सकते हैं, तब तक वह गुरुग्राम के घर में रहेंगी। घर की मरम्मत पूरी होने के बाद वह नई दिल्ली में शिफ्ट होंगी।

गुरुग्राम में शिफ्ट हुआ सामान

सूत्रों की मानें तो गुरुग्राम वाले घर में ज्यादातर समान शिफ्ट किया जा चुका है। वहां सुरक्षा जांच की कार्रवाई भी पूरी की जा चुकी है। प्रियंका (Priyanka Gandhi) के वहां शिफ्ट होने के फैसले के बाद सीआरपीएफ ने भी वहां का निरीक्षण किया। प्रियंका गांधी को जेड+ श्रेणी की सुरक्षा मिली है। यह सभी जानते हैं कि अब प्रियंका दिल्ली में राजनीतिक बैठकों के लिए अपनी मां और कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी के सरकारी आवास का प्रयोग करेंगी।

1997 में मिली थी SPG सुरक्षा

प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) को 1997 में एसपीजी सुरक्षा दी गई थी, उसी के आधार पर उन्हें 35 लोधी एस्टेट नई दिल्ली में सरकारी आवास आवंटित था। केंद्र सरकार ने पिछले साल उनकी एसपीजी सुरक्षा हटा ली थी और उनके पास अब सिर्फ एसपीजी सुरक्षा है। इसी के आधार पर उन्हें सरकारी बंगला खाली करने का नोटिस दिया गया था।

यूपी दौरे पर रहेंगी कौल हाउस में

1 जुलाई को केंद्र सरकार के आवास एवं शहरी मामलों के मंत्रालय ने उन्हें 31 जुलाई तक सरकारी आवास खाली करने का नोटिस जारी किया था। कहा जा रहा था कि प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश के लखनऊ स्थित कौल निवास में शिफ्ट हो सकती हैं। हालांकि बाद में उन्होंने फैसला लिया कि जब वह उत्तर प्रदेश में आएंगी, तब कौल हाउस में प्रवास करेंगी।

2022 विधानसभा चुनाव के मद्देनजर यूपी में बीतेगा प्रियंका का अधिकांश समय

कौल हाउस को प्रियंका (Priyanka Gandhi) का राजनीतिक बेस कैम्प भी कहा जा रहा है। सूत्रों की मानें तो 2022 के विधानसभा चुनावों के मद्देनजर आने वाले दिनों में प्रियंका गांधी अपना अधिकांश समय उत्तर प्रदेश में ही बिताएंगी।

कांग्रेस के सूत्रों की मानें तो अगस्त में प्रियंका गांधी यूपी आ सकती हैं। दिलचस्प बात यह है कि जब से केंद्र सरकार ने उन्हें लोधी रोड का सरकारी बंगला खाली करने का नोटिस दिया है, दब से उनकी इस मामले में कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। वहीं कांग्रेस नेताओं ने प्रियंका गांधी को घर खाली करने का नोटिस देने के मामले को राजनीति से प्रेरित बताया था।

31 जुलाई तक खाली करना है बंगला

प्रियंका गांधी ने यह भी कहा था कि उन्होंने बंगला खाली करने कि लिए सरकार से कोई मोहलक नहीं मांगी। उन्होंने साफ कहा कि वह 31 जुलाई के पहले सरकारी बंगला खाली कर देंगी। सूत्रों ने यह भी बताया कि लोधी रोड 35 के बंगले में 23 वर्षों में जो सजावट या डिजाइन करवाई गई है उसे वैसा ही रहे दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *