BJP सांसद प्रज्ञा ठाकुर बोलीं- 10 दिन तक करें हनुमान चालीसा का पाठ, कोरोना हो जाएगा समाप्त

New Delhi: Pragya Singh Thakur hanuman chalisa corona: कोरोना वायरस को हराने के लिए केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल के ‘भाभी जी पापड़’ के बाद अब मध्य प्रदेश की भोपाल लोकसभा सीट की बीजेपी सांसद प्रज्ञा ठाकुर (Pragya Singh Thakur) ने हनुमान चालीसा का पाठ करने की लोगों से अपील की है।

प्रज्ञा ठाकुर ने लोगों से आह्वान किया है कि देश से कोरोना वायरस (Corona Virus) की महामारी को समाप्त करने के लिए वे ‘हनुमान चालीसा’ का पाठ करें। प्रज्ञा ने ट्वीट किया, “आइए हम सब मिलकर कोरोना वायरस महामारी को समाप्त करने के लिए लोगों के अच्छे स्वास्थ्य की कामना के लिए एक आध्यात्मिक प्रयास करें।”

’25 जुलाई से 5 अगस्त तक प्रतिदिन शाम को पांच बार करें हनुमान चालीसा का पाठ’

प्रज्ञा ठाकुर ने लिखा, “आज 25 जुलाई से 5 अगस्त तक प्रतिदिन शाम 7:00 बजे अपने घरों में हनुमान चालीसा का पांच बार पाठ करें।” बीजेपी सांसद ने कहा, “पांच अगस्त को अनुष्ठान का रामलला की आरती के साथ घरों में दीप जलाकर समापन करें।”

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के एक पदाधिकारी ने हाल ही में कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए शिलान्यास समारोह में भाग लेंगे।

Covid-19 के लिए एंटीबॉडी विकसित कर सकता है ‘भाभी जी पापड़’: मेघवाल

इससे पहले शुक्रवार को केंद्रीय राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। इस वायरल वीडियो में अर्जुन राम मेघवाल अपने हाथ में ‘भाभी जी पापड़’ के पैकेट लिए हुए हैं, जिसमें उन्होंने दावा किया कि यह पापड़ Covid-19 के लिए एंटीबॉडी विकसित करने में मदद कर सकता है। वीडियो में केंद्रीय राज्य मंत्री को कहते सुना जा सकता है, “आत्मानिर्भर भारत के तहत, एक निर्माता ने ‘भाभी जी पापड़’ नाम से पापड़ बनाए हैं और यह कोरोनावायरस से लड़ने में बहुत मददगार होगा। उन्हें मेरी शुभकामनाएं और मुझे उम्मीद है कि वे सफल होंगे।”

कोरोना एक्टिव केस में पहले नंबर पर महाराष्ट्र

देश में कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा ऐक्टिव केस महाराष्ट्र में हैं। महाराष्ट्र में कोरोना के 1,45,482 ऐक्टिव केस है। वहीं दूसरे नंबर कर्नाटक है, यहां 52,788 ऐक्टिव केस है। वहीं, तीसरे नंबर पर तमिलनाडु है, यहां अभी भी 52, 273 कोरोना मरीज उपचाराधीन है। इसके अलावा आंध्रप्रदेश में 44431, यूपी में 22 452, पश्चिचम बंगाल में 19154, गुजरात में 12 697 ऐक्टिव केस हैं। उधर, दूसरी ओर दिल्ली से भी ऐक्टिव केस तेलंगाना और बिहार में हैं। तेलंगाना 11 677 और बिहार 11561 ऐक्टिव केस हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *