बलिया में धोखे से योगी सरकार का करा दिया पिंडदान, पुलिस ने किया गिरफ्तार

Webvarta Desk: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बलिया (Balia News) जिले में ब्राह्मणों को गंगा घाट पर बुला योगी सरकार (Yogi Govt) का पिंडदान (Pind Daan) करने का मामला सामने आया है। इस मामले में पिंडदान कराने वाले ब्राह्मणों ने यह आरोप लगाया है, कि उनको धोखे में रख गलत तरीके से वीडियो बना वायरल कर दिया गया है।

पिंडदान (Pind Daan) कराने वाले पांच ब्राह्मणों की तहरीर पर पुलिस ने पिंडदान करवाने वाले शख्स बृजेश यादव पर सुसंगत धारा में मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है।

दलन छपरा गांव के रहने वाले पांच ब्राम्हणों मंटू पांडेय, राम दर्शन पांडेय, सुधाकर मिश्रा, श्रीकृष्ण पांडेय और सत्यसेन तिवारी ने मंगलवार को रेवती थाने में तहरीर दी है, जिसमें इस बात का जिक्र है की बृजेश यादव नाम के शख्स ने उनको धोखे में रख गंगा घाट पर बुलाकर फिर विधि विधान के साथ गंगा पूजन और ब्राह्मण पूजन के क्रम में दान- दक्षिणा आदि देकर विदा कर दिया।

सीएम योगी की फोटो रखकर करा दिया पिंडदान

पूजन आदि की फोटोग्राफी और वीडियो भी बनवाया गया, बाद में उसी जगह ब्राह्मणों के जाने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की फोटो रखकर प्रदेश सरकार का पिंडदान कर दिया गया। इस पूरे घटनाक्रम का सुनियोजित तरिके से वीडियो बना सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया गया। ब्राह्मणों की तहरीर के आधार पर रेवती थाने में आइपीसी को धारा 420,और आईटी एक्ट के तहत बृजेश पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

रेवती थाना प्रभारी यादवेंद्र पांडेय ने बताया कि तहरीर मिलने के बाद शांति भंग होने की आशंका में धारा 151 में चालान कर ब्रजेश यादव को हिरासत में लिया गया है। फिलहाल पुलिस बृजेश से पूछताछ कर रही है।