बेखौफ अपराध! सामूहिक दुष्कर्म के आरोपी को पकड़ने गई पुलिस को बनाया बंधक,महिला कॉन्स्टेबल की पिटाई, केस दर्ज

Hindi News

photo 87014622

श्रीगंगानगरराजस्थान में अपराधी किस कदर बैखौंफ है। इसकी बानगी का एक और नमूना श्रीगंगानगर जिले से सामने आया है। मिली जानकारी के अनुसार दुष्कर्म के एक मामले में आरोपी की तलाश में सीकर लक्ष्मणगढ़ से आयी पुलिस टीम के साथ गई श्रीगंगानगर के पुरानी आबादी थाने के पुलिस टीम मौके पर गई थी। यहां उनरे साथ मारपीट की गई। साथ ही राजकार्य में बाधा डालने का मामला सामने आया है। पुलिस ने मामले में एक दर्जन से ज्यादा आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। आरोप है कि इन लोगों ने पुलिसकर्मियों को आधे घंटे से जयादा बंधक बनाये रखा और महिला पुलिसकर्मी से अभद्र व्यवहार भी किया।

यह था घटनाक्रमदुष्कर्म के एक पुराने मामले में जांच के लिए लक्ष्मणगढ़ से कॉन्स्टेबल मदनलाल और सुनील श्रीगंगानगर आए थे। उन्हें यहां पुरानी आबादी में असवाल वाटिका के पास दुष्कर्म के एक आरोपी रितेंद्र उर्फ रिंपी के होने की जानकारी मिली थी। इस पर दोनों कांस्टेबल के साथ पुरानी आबादी थाना पुलिस के पुलिसकर्मी भी मौके पर पहुंचे थे। पुलिस के मुताबिक मकान में रितेंद्र नहीं मिला, लेकिन उसमें रहने वाले परिवार के लोगों ने पुलिसकर्मियों को एक कमरे में बंधक बना लिया। इसी बीच अड़ोस -पड़ोस के लोग भी आ गए, जिन्होंने पुलिसकर्मियों को बाहर नहीं निकलने दिया। कमरे में पुलिसकर्मियों से मारपीट की गई। महिला सिपाही से भी अभद्र व्यवहार किया गया। इस घटना का पता चलते ही थाने से अतिरिक्त पुलिसकर्मियों को मौके पर भेजा गया और बंधक बनाए गए पुलिसकर्मियों को छुड़ाया गया।

एक दर्जन लोगों के खिलाफ किया गया मुकदमा हवलदार संजीव गौतम की रिपोर्ट पर एक दर्जन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। थाना प्रभारी कश्यप सिंह ने बताया कि आरोपी रितेंद्र सिंह इस मकान में नहीं मिला। लेकिन पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट करने वालों में से दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है।