23.1 C
New Delhi
Thursday, October 5, 2023

Rajasthan में कांग्रेस के पूर्व MLA ने खोली सरकार की पोल! 45 साल के लोगों को 60 साल वाली Pension Scheme का दे रहे फायदा

बारां, (वेब वार्ता)। राजस्थान प्रदेश में कांग्रेस पार्टी के एक पूर्व विधायक ने अपनी ही कांग्रेस पार्टी को कटघरे में खड़ा कर दिया है। विधायक पार्टी के ‘हाथ से हाथ जोड़ो अभियान’ की नुक्कड़ सभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने इस सभा में ऐसा बयान दिया है कि देखते ही देखते वो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। हम बात कर रहे हैं बारां जिले की छबड़ा विधानसभा के पूर्व विधायक करण सिंह राठौड़ की। विधायक ने ऐसा कबूल नामा वाला बयान दिया है कि विपक्ष को भी पूरे सबूत के साथ कांग्रेस पार्टी और गहलोत सरकार पर हमलावर होने का मौका मिल गया है। दरअसल, पूर्व एमएलए का बयान भ्रष्टाचार की कहानी कह रहा है। करण सिंह राठौड़ ने बयान में कबूला और कहा कि हमने पेंशन देने के लिए 45 साल के व्यक्ति को 60 साल का बुढ़ा बना दिया।

कांग्रेस विधायक ने वृद्धावस्था पेंशन स्कीम में फर्जीवाड़ा कबूला

करण सिंह राठौड़ ने यह बयान बारां जिले के छीपाबड़ौद उपखंड मुख्यालय के खजुरिया गांव में कांग्रेस के हाथ से हाथ जोड़ो अभियान के तहत बालाजी मंदिर परिसर में दिया। वहां हुई नुक्कड़ सभा में कांग्रेस के पूर्व विधायक करण सिंह राठौड़ ने स्वयं वृद्धावस्था पेंशन स्कीम में फर्जीवाड़ा कबूला। जहां कांग्रेस के पूर्व विधायक करण सिंह राठौड़ ने खुद कागजों में हेर फेर कर पेंशन दिलाने की बात कबूल की। साथ ही पूर्व एमएलए ने मंच से यह भी कहा कि राजनीति में झूठ बोलने वालों के कीड़े पड़ जाते हैं। इसलिए मैं सत्य बोल रहा हूं। हमने किसी का नाम मकान के सर्वे में और पेंशन में नहीं कटने दिया।

45 साल के व्यक्ति को 60 साल का बनाकर पेंशन दिलवाई

रविवार को छीपाबड़ौद में चल रहे हाथ से हाथ जोड़ो अभियान के तहत जागरूकता कार्यक्रम रखा गया। इसमें छबड़ा से कांग्रेस पूर्व विधायक करण सिंह राठौड़ भी पहुंचे। खजुरिया गांव में बालाजी मंदिर पर हुई सभा में उन्होंने कहा ‘हमने लोगों को पेंशन दिलवाई। हमने किसी का काम नहीं रोका, नहीं किसी का आवास रोका नहीं। किसकी पेंशन रोकी हैं। यहां तक कि हमने 45 साल के व्यक्ति को 60 साल का बनाकर पेंशन दिलवाई है।’

भगवान के मंदिर में मैं झूठ नहीं बोलूंगा…

ले मंच से यह कबूल किया है कि हमने कागजों में हेरफेर करके लोगों को पेंशन दिलवाई। यह बात वह स्वयं मंच से कबूल रहे हैं। उनकी इस बात पर कार्यक्रम में मौजूद लोग तालियां भी बजा रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा भगवान के मंदिर में मैं झूठ नहीं बोलूंगा। पूर्व विधायक के इस बयान से जिले में ही नहीं राज्य भर में खलबली मच गई। इस बयान का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है।

इस बयान के बाद बीजेपी के नेताओं का कहना है कि राजस्थान की गहलोत सरकार की वृद्धावस्था पेंशन स्कीम की जांच होना बहुत जरूरी है। क्योंकि पार्टी का एक पूर्व विधायक जो इस बात को कबूल कर रहा है कि 45 साल के लोगों को कागजों में 60 साल का बना दिया गया। और उन्हें पेंशन दी जा रही है। उन्हें पेंशन का लाभ दिया जा रहा है। ऐसे में राजकोष का किस तरह से दुरुपयोग हो रहा है। इस बात की तस्दीक खुद कांग्रेस पार्टी के नेता, जो पूर्व विधायक भी है वह कबूल कर रहा है। वृद्धावस्था पेंशन में कितना बड़ा भ्रष्टाचार हुआ।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

10,370FansLike
10,000FollowersFollow
1,148FollowersFollow

Latest Articles