23.1 C
New Delhi
Sunday, November 27, 2022

Eknath Shinde: गवर्नर को कहीं भी भेजो लेकिन महाराष्ट्र में मत रखो… एकनाथ शिंदे के विधायक गायकवाड ने रखी मांग

मुंबई: महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी (Bhagat Singh Koshyari) और बीजेपी प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी (Sudhanshu Trivedi) द्वारा छत्रपति शिवाजी महाराज पर किए गए विवादित बयान पर महाराष्ट्र (Maharashtra) की सभी विपक्षी पार्टियों ने नाराजगी जताई है और विरोध प्रदर्शन भी किया जा रहा है। वहीं दूसरी तरफ बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने राज्यपाल का बचाव करते हुए कहा कि राज्यपाल के कहने का मतलब यह नहीं होगा। उनके बयान का गलत मतलब निकाला गया है। अब तक एकनाथ शिंदे गुट (Eknath Shinde Faction) की तरफ से राज्यपाल को लेकर कोई कड़ी प्रतिक्रिया सामने नहीं आई थी। हालांकि, अब एकनाथ शिंदे के विधायक संजय गायकवाड (MLA Sanjay Gaikwad) ने केंद्र सरकार से यह मांग की है कि महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को किसी अन्य जगह पर भेजा जाए।

उन्होंने कहा कि जिस व्यक्ति को महाराष्ट्र के इतिहास और राजा की जानकारी न हो उसे महाराष्ट्र का राज्यपाल बनाने से राज्य का कोई फायदा नहीं होगा। साथ ही महाराष्ट्र में किसी मराठी व्यक्ति हो ही राज्यपाल बनाया जाए। उन्होंने कहा की बीजेपी (BJP) के लोग छत्रपति शिवाजी महाराज (Chhatrapati Shivaji Maharaj) पर रोज कुछ न कुछ विवादित बयान दे रहे हैं जो ठीक नहीं है। इस वजह से एक दिन दोनों पक्षों में विवाद पैदा हो जाएगा। जिसका परिणाम दोनों ही दलों को भुगतना पड़ेगा।

क्या है असल विवाद की जड़?
कुछ दिन पहले एक कार्यक्रम में मंच से बोलते हुए राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने कहा था कि जब हम स्कूल में थे तो हमसे पूछा जाता था कि स्कूल में हमारा रोल मॉडल कौन है। उस समय हम छात्र वही कहते थे जो हमें अच्छा लगता था। यानी कुछ लोग सुभाष चंद्र को पसंद करते थे, कुछ नेहरू को, कुछ गांधीजी को। जिसे जो अच्छा समझता था, उसी का नाम लेता था। आज अगर आपको आदर्श तलाशने हैं तो बाहर जाने की जरूरत नहीं है। आप महाराष्ट्र में ही अपने आदर्श पा सकते हैं। अगर कोई आपसे पूछता है कि आपके नायक कौन हैं, तो मुझे लगता है कि आप इसे यहां प्राप्त कर सकते हैं। शिवाजी पुराने समय के आदर्श हैं। मैं एक नए युग की बात कर रहा हूं। डॉ अंबेडकर से डॉ. यहां तक नितिन गडकरी भी आपको यहां मिल जाएंगे।

वहीं बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने कहा है कि छत्रपति शिवाजी महाराज ने औरंगजेब को पांच बार पत्र लिखकर माफी मांगी थी। त्रिवेदी के इस बयान के बाद महाराष्ट्र में बवाल मचा हुआ है। उन्होंने यह बयान एक निजी चैनल के डिबेट शो में बातचीत के दौरान दियाथा। इन दोनों बयानों के बाद पहली बार एकनाथ शिंदे गुट के किसी विधायक ने तल्ख़ टिपण्णी की है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

10,370FansLike
10,000FollowersFollow
1,122FollowersFollow

Latest Articles