मुंगेर फा’यरिंग: मतदान के बीच तेजस्वी ने JDU-BJP को घेरा- SP लिपि सिंह को डायर बनने का अधिकार किसने दिया?

New Delhi: बिहार चुनाव (Bihar Election) में पहले चरण के मतदान के दौरान ही महागठबंधन ने JDU और BJP को मुंगेर फा’यरिंग (Munger News) पर घेर लिया है।

28 अक्टूबर की सुबह-सुबह ही कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला (Randeep Surjewala) ने बीजेपी और JDU की सरकार पर हम’ला बोल दिया। सुरजेवाला ने कहा है कि ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) अगर आपने थोड़ा सा भी विवेक बचा है तो मां दुर्गा के भक्तों पर गो’ली चलाने वाले और उनकी ह’त्या करनेवाली सरकार को बर्खास्त करके जाइएगा।’

दरअसल आज पीएम मोदी (PM Narendra Modi) की बिहार में रैली भी है। इसी को लेकर सुरजेवाला (Randeep Surjewala) ने उनपर भी तंज कसा है।

सुरजेवाला (Randeep Surjewala) यहीं नहीं रुके, उन्होंने कहा कि ‘अगर नीतीश कुमार और सुशील मोदी की सरकार को प्रधानमंत्री ने बर्खास्त नहीं किया तो ये साफ हो जाएगा कि कहीं न कहीं उनकी प्रत्यक्ष या परोक्ष चरित्रता इसमें है। साथ ही ये भी साफ हो जाएगा कि संस्कार और संस्कृति भारतीय जनता पार्टी के लिए कुर्सी पर बैठने का विषय है, विश्वास का विषय नहीं। इसलिए आज पीएम अगर बिहार की धरती पर आए हैं तो उन्हें बिहार की 12 करोड़ जनता को ये जवाब देना होगा।’

तेजस्वी ने SP लिपि सिंह को कहा जनरल डायर

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashvi Yadav) ने मुंगेर की एसपी और JDU सांसद आरसीपी सिंह की बेटी लिपि सिंह (SP Lipi Singh) पर तीखा हम’ला बोला है। तेजस्वी यादव ने सवाल उठाते हुए कहा है कि ‘लिपि सिंह जनरल डायर बनने का अधिकार किसने दिया। मुंगेर की घटना मामूली नहीं है। हाई कोर्ट की निगरानी में मामले की सख्ती से जांच की जाए और दो’षियों पर कार्रवाई की जाए।’

मुंगेर की घटना की भर्त्सना करते हुए तेजस्वी यादव (Tejashvi Yadav) ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) से सवाल किया है कि बिहार पुलिस को जनरल डायर बनने का आदेश किसने दिया। तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश कुमार बिहार के मुख्यमंत्री होने के साथ-साथ राज्य के गृह मंत्री भी हैं उन्हें मुंगेर की घटना पर जवाब देना चाहिए। नेता प्रतिपक्ष ने उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी पर भी निशा’ना साधते हुए कहा कि उन्होंने ट्वीट करने के अलावा आज तक कुछ नहीं किया।

उन्होंने (Nitish Kumar) कहा कि महागठबंधन की ओर से लगातार यह कहा जा रहा है कि बिहार में विधि व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा गई है। मुंगेर में जिस प्रकार से नौजवानों को के ऊपर बर्बरता पूर्वक कार्रवाई की गई है वह बिहार के हालात को बताने के लिए काफी है।

तेजस्वी यादव (Tejashvi Yadav) ने यह भी कहा कि बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी (Sushil Modi) ने तो पितृपक्ष के मौके पर अपरा’धियों से अपील तक कर दी थी कि अपराधी पितृपक्ष के समय अपराध ना करें। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि इससे अनुमान लगाना कठिन नहीं है कि जब बिहार का उपमुख्यमंत्री अपराधियों से अपराध ना करने की अपील करता हो तो उस राज्य में विधि व्यवस्था कैसी होगी।

क्या हुआ है मुंगेर में

बताया जा रहा है कि सोमवार की आधी रात को मुंगेर के शादीपुर में दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान पुलिस ने युवकों पर ला’ठीचार्ज किया। पुलिस की पि’टाई के बाद भीड़ उ’ग्र हो गई और दोनों पक्ष आमने-सामने आ गए। स्थानीय लोगों का कहना है कि बाद में बचाव के लिए पुलिस ने फा’यरिंग की, जिसमें एक युवक की मौके पर ही मौ’त हो गई। फायरिंग में करीब 25 लोग घायल भी हो गए, जिनका इलाज सदर अस्पताल में किया जा रहा है।

अब पुलिस प्रशासन का जवाब जानिए

मुंगेर के डीएम राजेश मीणा और एसपी लिपि सिंह ने इस मामले में सफाई भी दी है। उन्होंने घटना के दो अलग-अलग वीडियो क्लिप जारी किए है। एसपी लिपि सिंह ने कहा कि विसर्जन के दौरान असामाजिक तत्वों ने पुलिस पर पथराव कर दिया, जिसमें करीब 20 जवान घायल हो गए। एक पुलिस अधिकारी को गंभीर चोट आई है।

एसपी लिपि सिंह ने यह भी कहा कि पथराव के बाद असामाजिक तत्वों की ओर से गो’लीबारी की गई जिसमें एक युवक की मौ’त हो गई। डीएम राजेश मीणा ने बताया कि फिलहाल स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है। उन्होंने अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *