Mukesh Ambani Case: आतंकियों के निशाने पर थे मुकेश अंबानी? जानें मुंबई पुलिस ने क्या कहा

Webvarta Desk: उद्योगपति मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) के घर के बाहर स्कॉर्पियो में मिले विस्फोटक (Explosives Found Near Antilia) मामले में मुंबई क्राइम ब्रांच (Mumbai Crime Branch) के साथ एनआईए (NIA) की टीम भी जांच कर रही है। क्राइम ब्रांच चीफ मिलिंद भारंबे ने बताया कि इस मामले में हम टेरर एंगल समेत सभी पहलुओं पर जांच कर रहे हैं।

मुंबई क्राइम ब्रांच (Mumbai Crime Branch) ने स्कॉर्पियो के मालिक हीरेन हसमुख हीरेन मनसुख से पूछताछ की। हीरे मनसुख की गाड़ी कुछ दिनों पहले विक्रोली इलाके से चोरी हो गई थी। इसी कार में जिलेटिन की छड़ें बरामद की गई थीं।

किसी भी ग्रुप ने नहीं ली जिम्मेदारी

मुंबई पुलिस (Mumbai Police) के एक अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के मुताबिक, आमतौर पर जब कोई आतंकी गुट ऐसे मामलों में इंवॉल्व होता है तो वह इस बात की यह जिम्मेदारी लेता है। हालांकि इस घटना को कई घंटे बीत चुके हैं लेकिन अभी तक किसी ने क्लेम नहीं किया है।

बावजूद इसके टेरर एंगल को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि ढाई किलोग्राम वजन की 20 जिलेटिन की छड़ी कार से बरामद हुई थी, जो तकरीबन 3 हज़ार स्क्वायर फीट के परिसर को बहलाने के लिए काफी हैं।

दूसरी कार की तलाश

पुलिस के मुताबिक इस मामले में एक दूसरी इनोवा कार की भी तलाश की जा रही है जो अंबानी के घर के पास तक आई थी। इनोवा कार पर भी फर्जी नंबर प्लेट लगी हुई थी, जिसे ट्रेस किया जाना बाकी है।

यह इनोवा कार रात के तकरीबन 3 बजे मुंबई के मुलुंड टोल नाके को पार करके ठाणे की तरफ बढ़ी है। यह पूरी घटना सीसीटीवी में रिकॉर्ड हुई है।

स्कॉर्पियो का मालिक पहुंचा क्राइम ब्रांच

उद्योगपति मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) के घर के पास खड़ी स्कॉर्पियो के मालिक का पता चल गया है। मामले की जांच कर रही क्राइम ब्रांच की टीम फिलहाल स्कॉर्पियो के मालिक से पूछताछ करने में जुटी हुई है। पुलिस के मुताबिक स्कॉर्पियो कुछ साल पहले चुराई गई थी।

पुलिस को पुलिस के मुताबिक यह कार विक्रोली इलाके से चुराई गई थी। इसका चेचिस नंबर भी काफी डैमेज हो गया था। बावजूद इसके मालिक तक पहुंचने में मुंबई पुलिस सफल रही है। पुलिस के मुताबिक हाल के दिनों में अंबानी परिवार को किसी प्रकार का कोई धमकी भरा पत्र या फोन कॉल नहीं आया था। फिलहाल पुलिस आसपास के सभी सीसीटीवी फुटेज को खंगालने में जुटी हुई है।

कमर्शियल ग्रेड का है जिलेटिन

पुलिस के मुताबिक जो जिलेटिन अंबानी के घर के पास खड़ी स्कॉर्पियो में मिला है। वह मिलिट्री-ग्रेड जिलेटिन ( विस्फोटक सामग्री बनाने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाला जिलेटिन) नहीं है बल्कि कमर्शियल ग्रेड का जिलेटिन है। इस प्रकार के जिलेटिन का इस्तेमाल आमतौर पर इंफ्रास्ट्रक्चर के कामों में किया जाता है।

क्या है मामला

उद्योगपति मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) के घर एंटीलिया (Antilia) के बाहर जिलेटिन से भरी कार बरामद होने के बाद से हड़कंप मचा हुआ है। पूरा शहर छावनी में तब्दील हो गया। मुंबई पुलिस जगह-जगह नाकेबंदी लगाकर चेकिंग अभियान चला रही है।

मुकेश अंबानी को धमकी

मशहूर उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर से कुछ फासले की दूरी पर मिली जिलेटिन से भरी स्कॉर्पियो में एक धमकी भरा खत भी मिला। इस खत में लिखा था-, ‘मुकेश भैया ऐंड नीता भाभी ये तो ट्रेलर था, पूरी पिक्चर अभी बाकी है हमारी तैयारी पूरी हो चुकी है’।

यह धमकी भरा पत्र टूटी-फूटी अंग्रेजी में लिखा हुआ था। इसमें ग्रामर की कई गलतियां थीं। कार में एक बैग भी मिला है, जिस पर मुंबई इंडियंस लिखा हुआ था। फिलहाल मुंबई पुलिस, क्राइम ब्रांच और एटीएस पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है।

कई दिनों से कर रहे थे अंबानी का पीछा!

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जिन लोगों ने मुकेश अंबानी के घर के पास विस्फोटक से भरी स्कॉर्पियो रखी थी। उन्होंने ना सिर्फ एंटीलिया (मुकेश अंबानी का घर) की रेकी की थी, बल्कि मुकेश अंबानी के काफिले का भी कई बार पीछा किया था। बिना इसके अंबानी की गाड़ियों की नंबर प्लेट से मिलता नंबर प्लेट बनाना आसान नहीं था।