27.1 C
New Delhi
Thursday, September 29, 2022

के. आसिफ चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल: ‘चंबल में आके तो देखो’ है स्लोगन, दो दिवसीय सिनेमा के कुंभ में होगा दिग्गजों का जमावड़ा

वेबवार्ता: ग्वालियर/भिण्ड, मुकेश शर्मा| महान फिल्म निर्देशक के. आसिफ की स्मृति में आयोजित होने वाले चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल (K Asif Chambal International Film Festival) के छठे वर्ष की थीम ‘सिनेमा और पर्यटन’ रखा गया है।

चंबल क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा देने के मकसद से इस बार भी के. आसिफ चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल (K Asif Chambal International Film Festival) विश्व के फिल्मकारों और सिने-प्रेमियों के बीच एक सेतु बन रहा है। आगमी 3 और 4 सितंबर को एसडी फील्ड, इटावा स्थित पंचायती राज राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय सभागार में सिनेमा का कुंभ लगने जा रहा है।

रंगोली और पेंटिंग कंप्टीशन की ज्यूरी में इटावा क्लब की कल्चरल सेक्रेटरी कुसुम मिश्रा, सांस्कृतिक चिंतक सावित्री अग्रवाल, शिक्षक अभिषेक ज्ञानार्थी, चंबल परिवार से स्वेच्छा दीक्षित और शिक्षक प्रमोद कुमार कुशवाहा शामिल हैं। प्रतियोगिता 3 सितंबर को प्रातः दस बजे शुरू होगी। रंगोली और पेंटिंग का विषय ‘प्यारा चंबल’ है। इस प्रतियोगिता में विभिन्न स्कूलों के जूनियर और सीनियर छात्र-छात्राएं प्रतिभाग करेंगे।

सांस्कृतिक कार्यक्रम के अलावा फिल्मों का प्रदर्शन और संवाद दोनों दिन जारी रहेगा। इस दौरान चंबल घाटी के विभिन्न पहलुओं को समेटे फोटो प्रदर्शनी भी लगाई जाएगी। चार सितंबर को प्रातः 11 बजे से फिल्म मेकिंग वर्कशाप शुरू होगी। जिसमें चंबल के युवा सिनेमा निर्माण के साथ यूट्यूब, फेसबुक, इंस्टाग्राम आदि के वीडियों एवं फोटोग्राफी की बारीकियां सीख सकेंगे।

चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल के संस्थापक दस्तावेजी फिल्मकार डॉ. शाह आलम राना ने बताया कि इस बार जर्मनी, संयुक्त राज्य अमेरिका, ताइवान, नीदरलैंड, डेनमार्क, मैक्सिको, यूनाइटेड किंगडम, तुर्की, कोरिया, कोलंबिया, एस्टोनिया और भारत से फिल्मकारों ने करीब 211 ने फिल्में समारोह के लिए भेजी थीं। इनमें से चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल के चार ज्यूरी सदस्यों ने फीचर फिल्मों, शार्ट फिल्मों, डाक्यूमेंट्री फिल्मों, वीडियो म्यूजिक, वेब सीरीज की अलग- अलग श्रेणी में फेस्टिवल के लिए चयन किया है। दो दिवसीय फिल्म समारोह के दौरान इन चुनिंदा फिल्मों को सिनेमाप्रेमी देख सकेंगे। चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल की ज्यूरी में अभिनेत्री, मॉडल मान्या पाठक, अल्बानिया से फिल्म निर्देशक, लेखक और व्याख्याता वाल्मीर टर्टिनी, अजरबैजान निवासी चर्चित लेखक, फिल्म निर्माता और निर्देशक जलालुद्दीन गासिमोव और सिनेमा के चर्चित अध्ययेता, फिल्म निर्देशक ज्यूरी चेयरमैन प्रोफेसर मोहन दास शामिल हैं।

उद्धाटन समारोह तीन सितंबर को सुबह 11 बजे शुरू होगा जिसमें चंबल संभाग के पुरात्व अधिकारी डॉ. अशोक शर्मा, पर्यटन विशेषज्ञ और पूर्व कुलपति प्रोफेसर मनोज दीक्षित, जिलाधिकारी इटावा अवनीश राय, दस्तावेजी छायाकार सुनील दत्ता, सिनेमेटोग्राफर शारिक हैदर नकवी, नगरपालिका परिषद इटावा अध्यक्ष नौशाबा फुरकान, फिल्म निर्देशक उमेश गोन्हजे संबोधित करेंगे। उद्धाटन समारोह की अध्यक्षता पंचायती राज राजकीय महिला पीजी कालेज के प्राचार्य डॉ. श्यामपाल सिंह और संचालन एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. रमाकांत राय करेंगे।

समापन समारोह में फेस्टिवल ज्यूरी चेयरमैन फिल्म निर्देशक प्रोफेसर मोहन दास, अभिनेत्री, मॉडल मान्या पाठक, इंटरनेशनल मीडिया ग्रुप आईसीएन के एडिटर इन चीफ प्रोफेसर (डॉ.) शाह अयाज सिद्दीकी, सेलिब्रेटी डिजाइनर मुमताज खान, माइक्रो फाइनेंस एक्सपर्ट सिद्धार्थ अमर रस्तोगी, टीवी सीरियल समीक्षक कौसर खान अतिथि होंगे। समापन समारोह की अध्यक्षता उत्तर प्रदेश ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के प्रदेश उपाध्यक्ष शंकरदेव तिवारी और संचालन फिल्म समीक्षक डॉ. जितेन्द्र विसारिया करेंगे। इसी दौरान समारोह में प्रदर्शित की गई फिल्मों के फिल्मकारों का सम्मान किया जाएगा।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

10,370FansLike
10,000FollowersFollow
1,125FollowersFollow

Latest Articles