Gwalior News: डांसर नहीं बन पाने के गम में युवक ने दे दी जान, सुइसाइड नोट में पीएम मोदी से लेकर बॉलिवुड सिंगर अरिजीत सिंह तक के नाम

हाइलाइट्स

  • 11वीं के छात्र ने ट्रेन से कटकर दे दी जान
  • डांसर नहीं बन पाने की निराशा में युवक ने उठाया कदम
  • सुइसाइड नोट में युवक ने बताई अपनी आखिरी इच्छा
  • युवक ने पीएम मोदी से आखिरी इच्छा पूरी करने की अपील की

ग्वालियर
मध्य प्रदेश के ग्वालियर में रविवार को एक युवक ने ट्रेन से कटकर अपनी जान दे दी। उसे दुख था कि वह डांसर नहीं बन पाया क्योंकि परिवार के लोगों ने उसका सपोर्ट नहीं किया। मरने से पहले उसने सुइसाइड नोट लिखा जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपनी आखिरी इच्छा पूरी करने की गुजारिश की है।

ग्वालियर के कैंसर पहाड़िया पर स्थित मौनी बाबा मंदिर के पास रहने वाला 16 साल का अज्जू ग्यारहवीं कक्षा में पढ़ता था। वह डांसर बनना चाहता था, लेकिन उसके घरवाले इसके लिए राजी नहीं थे। वे उसे पढ़ाई पर ध्यान देने को जोर देते थे। निराश होकर उसने खुदकुशी करने का फैसला कर लिया। रविवार को वह रेल की पटरी पर जाकर लेट गया। लोगों ने जब देखा तब उसका शरीर दो हिस्सों में बंट चुका था। उन्होंने तुरंत पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने लाश की तलाशी ली तो उसके जेब से सुइसाइड नोट मिला।

सुइसाइड नोट में युवक ने अपनी आखिरी इच्छा बताई थी। उसने लिखा कि मरने के बाद हर व्यक्ति की अंतिम इच्छा पूरी की जाती है। उसकी आखिरी इच्छा है कि उस पर एक गाना बनाया जाए, जिसे बॉलिवुड के मशहूर सिंगर अरिजीत सिंह गाएं। गाने पर नेपाल मूल के डांसर सुशांत खत्री डांस करें। उसने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उसकी आखिरी इच्छा पूरी करने की अपील की है।

सुइसाइड नोट में युवक ने लिखा कि मम्मी-पापा मुझे माफ करना, मैं आपका अच्छा बेटा नहीं बन सका। मैं एक अच्छा डांसर बनना चाहता था, लेकिन किसी ने मेरा सपोर्ट नहीं किया। घरवालों मेरे हेयर स्टाइल और मेरे दोस्त तक पसंद नहीं थे। उसने आगे लिखा कि गलती मेरी है कि मैं परिवार के लोगों की इच्छा का ध्यान नहीं रख सका।