14.1 C
New Delhi
Thursday, December 8, 2022

मध्य प्रदेश में बनेगा ई-व्हीकल पार्क मुख्यमंत्री ने निवेशकों को किया आमंत्रित

भोपाल, (वेब वार्ता)। प्रदेश में निवेश को बढ़ावा देने के लिए सरकार नए-नए क्षेत्रों में उद्योग लगाने के लिए निवेशकों को आमंत्रित कर रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को पुणे में महाराष्ट्र के कई उद्यमियों से चर्चा की। उन्होंने बताया कि आगामी समय इलेक्ट्रिक वाहनों का है। इसे देखते हुए प्रदेश में इलेक्ट्रिक वाहन कपंनियों के लिए पार्क बनाने का निर्णय लिया गया है। इन्हें निवेश प्रोत्साहन नीति के तहत सभी तरह की सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। उन्होंने निवेशकों को भरोसा दिलाया कि प्रदेश में सिंगल विंडो सिस्टम में किसी भी क्षेत्र में काम करने में कोई समस्या नहीं आने दी जाएगी।

मुख्यमंत्री ने बताया कि मध्य प्रदेश कपड़ा एवं वस्त्र, खाद्य प्रसंस्करण, दवा सहित अन्य क्षेत्रों में निवेशकों के लिए आकर्षण का केंद्र है। एकल खिड़की व्यवस्था से सभी तरह की अनुमतियां समयसीमा में देने का प्रविधान कर दिया है। पर्यटन की दृष्टि से भी मध्य प्रदेश, देश के समृद्ध राज्यों में से एक है। एक लाख 22 हजार एकड़ का लैंड बैंक, बिजली, पानी,परिवहन, मानव संसाधन और शांतिपूर्ण वातावरण उपलब्ध है।

निवेशक मित्रों का मध्य प्रदेश में स्वागत है। इलेक्ट्रिक वाहन भविष्य की आवश्यकता हैं। इस दिशा में मध्य प्रदेश ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए पार्क बनाने का निर्णय लिया है। चंबल के बीहड़ को जोड़ते हुए अटल प्रगति पथ और अमरकंटक से सीधे गुजरात की सीमा तक नर्मदा प्रगति पथ बनाया जा रहा है। प्रदेश में सिंचाई का रकबा (क्षेत्र) आने वाले तीन साल में 65 लाख हेक्टेयर होगा।

कृषि विकास दर लगातार दस साल तक 18 प्रतिशत से अधिक रही है, जो चमत्कार से कम नहीं है। कोरोना काल में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आपदा को अवसर में बदलने की बात कहते हुए आत्म निर्भर भारत का मंत्र दिया था, जिसे आत्मसात करके हमने आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश की कार्ययोजना तैयार की है। मध्य प्रदेश पहला ऐसा राज्य है, जहां श्रम सुधार किए गए हैं।

प्रदेश में अब महिलाएं भी तीन पाली में काम कर सकती हैं। हमारी नीतियों उद्योगों के अनुकूल हैं। उन्होंने सभी उद्यमियों को इंदौर में होने वाले आठ, नौ और दस जनवरी 2023 को होने वाले प्रवासी भारतीय दिवस कार्यक्रम और 11 व 12 जनवरी को होने वाली ग्लोबल इन्वेस्टर समिट के लिए आमंत्रित किया। साथ ही कहा कि आप लोग समिट होने की प्रतीक्षा न करें, आज और अभी से निवेश की प्रकिया प्रारंभ कर दें।

मुख्यमंत्री ने काउंसिल जनरल आफ इजराइल के कोबी शोनी, भारत फोर्ज लिमिटेड के बाबा कल्याणी, किर्लोस्कर ब्रदर्स लिमिटेड के संजय किर्लोस्कर, वीकफील्डस फूड्स लिमिटेड के प्रबंध निदेशक अश्विनी मल्होत्रा, पियाजियो वीकल्स इंडिया के डिएगो ग्रेफी, केपीआइटी टेक्नोलाजी के प्रबंध निदेशक रवि पंडित, जेडएफ स्टीयरिंग गियर्स के उत्कर्ष मोनोतो, प्रवीण मसाला (सुहाना मसाला) के विशाल चौरड़िया, राठी ग्रुप के अदित राठी और मालपानी ग्रुप के आशीष मालपानी से मध्यप्रदेश में निवेश संबंधी प्रस्तावों पर चर्चा की।

मप्र पहला राज्य, जिसने आटो शो किया

औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन मंत्री राज्यवर्धन सिंह दत्तीगांव ने कहा कि मध्य प्रदेश, देश में ऐसा पहला राज्य है, जिसने अपना आटो-शो किया। हमारे यहां आइआइटी, आइआइएम के साथ ही कई आइटीआइ हैं। सिंगापुर के सहयोग से भोपाल में ग्लोबल स्किल पार्क स्थापित किया गया है। गेहूं, चावल, लहसुन, प्याज, मक्का, सोयाबीन, डेयरी उत्पाद सहित कई कृषि उत्पाद निर्यात किए जा रहे हैं। विभगा के प्रमुख सचिव संजय शुक्ला ने प्रदेश में निवेश के लिए उपलब्ध सुविधाओं एवं नीतियों की जानकारी दी। कार्यक्रम में मध्य प्रदेश की समृद्ध सामाजिक, सांस्कृतिक, प्राकृतिक, औद्योगिक, पर्यटन विरासत एवं आधारभूत संरचना को दर्शाती लघु फिल्म भी दिखाई गई।

मध्य प्रदेश पर एक नजर

-एक लाख 22 हजार एकड़ का लैंड बैंक

-बिजली, पानी,परिवहन, मानव संसाधन और शांतिपूर्ण वातावरण उपलब्ध

-ई व्हीकल पार्क के लिए 300 एकड़ भूमि आरक्षित

-सिंगल विंडो सिस्टम में किसी भी क्षेत्र में कोई समस्या नहीं

-अटल प्रगति पथ और अमरकंटक से सीधे गुजरात की सीमा तक नर्मदा प्रगति पथ करेगा परिवहन को आसान

– सिंचाई का रकबा (क्षेत्र) आने वाले तीन साल में 65 लाख हेक्टेयर होगा

-अब महिलाएं भी तीन पाली में काम कर सकती हैं

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

10,370FansLike
10,000FollowersFollow
1,120FollowersFollow

Latest Articles