Kashmir Police

कश्‍मीर पुलिस का दावा- श्रीनगर का आखिरी आतंकी भी ढेर, कोई युवा आतंकवाद में शामिल नहीं

New Delhi: Kashmir Police Killed Last Militants of Srinagar: कश्‍मीर पुलिस ने दावा किया है कि कश्मीर के श्रीनगर जिले का कोई भी आ;तंकी अब कश्मीर में सक्रिय नहीं है। श्रीनगर जिले का रहने वाले एक ही आतं’की बचा हुआ था जिसे सुरक्षाबलों ने शनिवार को श्रीनगर के बाहरी इलाके मे मा’र गिराया है। जिसके बाद अब श्रीनगर जिले का निवासी कोई भी आ’तंकी पूरे प्रदेश में सक्रिय नहीं है। पुलिस इसे बडी सफलता मान रही है।

पुलिस ने बताया कि शनिवार को दो आतंकी मुठभेड़ में मा’रे (Kashmir Police Killed Last Militants of Srinagar) गए थे। इसमें शामिल लश्कर कमांडर इशफाक रशीद खान भी शामिल था। इशफाक श्रीनगर जिले का रहनेवाला अकेला आतं’की बचा हुआ था, जिसकी लंबे समय से तलाश की जा रही थी।

बड़ी सफलता के रूप में देख रही पुलिस

रविवार को पुलिस ने आधिकारिक स्तर पर इसकी जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस ने श्रीनगर के रहने वाले अंतिम आतं’की को भी मा’र गिराया है। पुलिस इसे बड़ी सफलता के रूप में देख रही है क्‍योंकि क्योंकि आतं’कवाद के दौर में श्रीनगर जिले के कई आतं’की कश्मीर में सक्रिय थे। इसके अलावा ऐसे भी कई लोग थे जो आतं’कियों के लिए कई किस्‍म के काम करते थे। लेकिन अब पुलिस ने इस लिंक को तोड दिया है।

इस साल कुल 146 आतंकवादी ढेर

पुलिस का दावा है कि कश्मीर में हर महीने कामयाबी मिल रही है। जिसमें कई इलाकों को आतंकमुक्त किया गया है। जुलाई में अब तक कश्मीर में नौ मुठभेड हुई हैं जिनमें 16 आतं’कियों को मा’र गिराया जा चुका है। इस सालकुल 50 मुठभेड हुई हैं, जिनमें 146 आतं’कियों को मा’र गिराया जा चुका है। इन आतं’कियों में लश्कर, जैश, हिजबुल के कमांडर भी शामिल है। इस दौरान ही त्राल जैसे इलाके को आतंक मुक्त किया गया है।

‘जनता का पूरा सहयोग मिल रहा’

पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह का कहना था, ‘हमारा प्रयास शंति लाने का है जिसमें पुलिस अपने बाकी सहयोगी सुरक्षाबलों के साथ मिलकर काम कर रही है। जनता भी पुलिस को पूरी मदद कर रही है। जनता ने पाक की तरफ से फैलाए जा रहे आतंकवाद से काफी नुकसान सहा है। अब वह इससे निजात चाहते हैं। आगे भी पुलिस के आपरेशन इसी तरह से जारी रहेंगे ताकि कश्मीर को आतंकमुक्त बनाया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *