पत्रकार अब्दुल माजिद निज़ामी उर्दू अकादमी की गवर्निंग काउंसिल में शामिल

Webvarta Desk: दिल्ली सरकार (Delhi Govt) द्वारा दो साल के कार्यकाल के लिए उर्दू अकादमी दिल्ली (Urdu Academy Delhi) का पुनर्गठन किया गया है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री व उर्दू अकादमी दिल्ली के अध्यक्ष मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) द्वारा गठित गवर्निंग काउंसिल में जिन विभूतियों को शामिल किया गया है, उनमें उर्दू के वरिष्ठ पत्रकार अब्दुल माजिद निज़ामी (Journalist Abdul Majid Nizami) का नाम भी शामिल है।

बता दें कि अब्दुल माजिद निज़ामी (Journalist Abdul Majid Nizami) लगभग दो दशक से उर्दू पत्रकारिता कर रहे हैं, वे कई अख़ाबरों में काम कर चुके हैं। लगभग एक दशक से वे हिंद न्यूज़ मीडिया ग्रुप (Hind News Media Group) के समूह संपादक हैं। उनका शुमार उर्दू के उन चंद पत्रकारों में हैं जो उर्दू पत्रकारिता के लिये राष्ट्रीय एंव अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सम्मानित हो चुके हैं।

हापुड़ से हैं माजिद निज़ामी

उर्दू अकादमी दिल्ली (Urdu Academy Delhi) की गवर्निंग काउंसिल में शामिल होने वाले अब्दुल माजिद निज़ामी पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जनपद हापुड़ के ग्राम सलाई के रहने वाले हैं। वे लगभग दो दशक से दिल्ली में उर्दू पत्रकारिता से जुड़े हैं। उन्होंने जामिया मिल्लिया इस्लामिया से मीडिया की पढ़ाई की, इसके बाद कई उर्दू अख़बारों में अपनी सेवाएं दीं। उर्दू अकादमी की गवर्निंग काउंसिल में अब्दुल माजिद निज़ामी के नाम की घोषणा होते ही उर्दू से प्रेम रखने वाले तबके में खुशी की लहर दौड़ गई और उन्हें बधाई देने वालों का तांता लग गया।

अब्दुल माजिद निज़ामी का शुमार उर्दू अख़बार के सबसे युवा संपादकों में होता है। वे दिल्ली समेत उत्तराखंड और यूपी के कई शहरों से प्रकाशित होने वाले उर्दू रोज़नामा हिंद न्यूज़ के प्रधान संपादक हैं। इसके अलावा वे दैनिक हिंद न्यूज़ हिंदी और उर्दू, हिंदी वेब पोर्टल के भी संपादक हैं।

माजिद निज़ामी को उर्दू पत्रकारिता के लिये कई बार पुरुस्कृत किया जा चुका है, जिनमें विशेषकर बीते वर्ष हकीम अजमल ख़ान आवार्ड से सम्मानित किया जाना भी शामिल है। पत्रकारिता में महत्तवपूर्ण भूमिका निभाने के लिए यह आवार्ड मशहूर पत्रकार रवीश कुमार और अब्दुल माजिद निज़ामी को नई दिल्ली स्थित इंडिया इस्लामिक कल्चरल सेंटर में एक ही मंच पर दिया गया था।