करप्शन का कप्तान IPS Manish Aggarwal सस्पेंड, न्यायालय ने भेजा जेल

Webvarta Desk: रिश्वतखोर आईपीएस मनीष अग्रवाल (IPS manish aggarwal) को अब सरकार ने सस्पेंड कर दिया है। वहीं न्यायालय ने भी अग्रवाल को जेल भेज दिया। वहीं घूसकांड के अन्य आरोपी एसडीएम पिंकी मीणा (SDM Pinky meena) और पुष्कर मित्तल (pushkar mittal) पूर्व में ही सस्पेंड हो चुके हैं

आपको बता दें कि इस घूसकांड के खुलने के बाद प्रदेशभर में इसे लेकर चर्चा चल रही है। वहीं इस मामले के बाद आईपीएस मनीष अग्रवाल (IPS manish aggarwal) के संपर्क में रहे लोगों की भी नींद उड़ी हुई है।

शुक्रवार को एसीबी कोर्ट में किया गया था पेश

मिली जानकारी के अनुसार दिल्ली मुंबई एक्सप्रेसवे निर्माण कंपनी के प्रतिनिधियों से रिश्वत की डिमांड करने के आरोप में फंसे आईपीएस मनीष अग्रवाल (IPS manish aggarwal) को 2 दिन की एसीबी रिमांड पूरी होने पर शुक्रवार को एसीबी कोर्ट जयपुर में पेश किया गया। यहां से न्यायालय ने आईपीएस मनीष अग्रवाल को जेल भेजने के आदेश दिए।

ऐसे में अब आईपीएस मनीष अग्रवाल (IPS manish aggarwal) जेल की सलाखों के अंदर रहेंगे । इधर न्यायालय की ओर से आईपीएस को न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिए जाने के बाद कार्मिक विभाग ने भी आदेश जारी करते हुए आईपीएस मनीष अग्रवाल को सस्पेंड कर दिया। गिरफ्तार होने के चौथे दिन सरकार ने आईपीएस मनीष अग्रवाल को सस्पेंड किया है।

उठ रहे थे सस्पेंशन को लेकर सवाल

आपको बता दें कि मनीष अग्रवाल के 4 दिन पहले गिरफ्तार होने के बावजूद भी सस्पेंड नहीं होने से अनेक सवाल खड़े हो रहे थे। लेकिन शुक्रवार शाम सरकार एक आदेश जारी कर आईपीएस मनीष अग्रवाल को निलंबित कर दिया है।

गौरतलब है कि आईपीएस मनीष अग्रवाल पर दिल्ली मुंबई एक्सप्रेसवे निर्माण कंपनी के प्रतिनिधियों से 38 लाख रुपए की रिश्वत की डिमांड दलाल के माध्यम से करने का आरोप था। वहीं एक अन्य कंपनी से 31 लाख रुपए की रिश्वत लेने का आरोप था। 2 दिन की रिमांड के दौरान पूछताछ के बाद अब आईपीएस मनीष अग्रवाल को न्यायिक अभिरक्षा में भेजा जा चुका है।

वहीं इसी कंपनी से 50 लाख रुपए की रिश्वत लेते एसडीएम पुष्कर मित्तल को और 10 लाख रुपए की रिश्वत की डिमांड करते हुए पिंकी मीणा को भी गिरफ्तार किया था। दोनों ही आर ए एस अधिकारी वर्तमान में जेल में है।