BJP सांसद गौतम गंभीर दिल्‍ली सरकार पर भड़के, CM केजरीवाल को कहा- 21वीं सदी का तुगलक

New Delhi: देश की राजधानी कोरोना वायरस के प्रकोप से धीमे-धीमे उबर रही है। नए केसेज की संख्‍या घटी है तो उसका क्रेडिट लेने की होड़ मच गई है। बीजेपी सांसद गौतम गंभीर (Gautam Gambhir on CM Kejriwal) ने सत्‍ताधारी आम आदमी पार्टी (AAP) को इसके लिए निशाने पर लिया है।

उन्‍होंने शनिवार को ट्विटर पर दो स्‍क्रीनशॉट्स डालकर कहा (Gautam Gambhir on CM Kejriwal) कि AAP सरकार को विज्ञापनों और हैशटैग्‍स की जगह काम में पैसा लगाना चाहिए था। उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल को टैग करते हुए उन्‍हें ’21वीं सदी का तुगलक’ करार दिया। गंभीर ने लिखा कि “TV पर बोलो – क्रेडिट नहीं चाहिए। Twitter पर बोलो – सब मैंने किया है।” उन्‍होंने शुक्रवार को भी चुनाव वादे को लेकर केजरीवाल सरकार को कटघरे में खड़ा किया था।

दो दिन पहले सीएम-सांसदों में हुई थी बात

गुरुवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिए दिल्‍ली के सभी सांसदों से बात की थी। गंभीर समेत दिल्‍ली में बीजेपी के ही सारे लोकसभा सांसद हैं। इसके अलावा आम आदमी पार्टी के तीन सांसद राज्‍यसभा में हैं। इसमें चर्चा कोरोना संक्रमण रोकने के उपायों पर ही हुई थी।

गंभीर ने इस मीटिंग में कॉल के जरिए प्‍लाज्‍मा डोनेशन बढ़ाने के बात कही थी और कांतिनगर में आइसोलेशन सेंटर का अप्रूवल मांगा था। बिजली के बढ़े हुए बिलों को लेकर भाजपा आंदोलन करने जा रही है। गंभीर ने सीएम संग मीटिंग में यह मुद्दा प्रमुखता से उठाया था।

बीजेपी ने विधानसभाओं में किया प्रदर्शन

बिजली कंपनियों की मनमानी और केजरीवाल सरकार के खिलाफ भाजपा ने आंदोलन की शुरुआत कर दी है। पार्टी ने शुक्रवार को सभी 70 विधानसभा क्षेत्रों में बिजली कंपनियों के दफ्तर के बाहर धरना प्रदर्शन किया।

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने आरोप लगाया कि संकट की इस घड़ी में भी दिल्ली के लोगों के हितों के प्रति दिल्ली सरकार का रवैया बहुत ही गैर जिम्मेदाराना रहा है। गुप्ता ने कहा कि बिल की एक्चुअल रीडिंग लेने के लिए केजरीवाल सरकार के कर्मचारी कोरोना का बहाना करते हैं लेकिन डिस्कनेक्शन की चेतावनी और बिजली बिल लगातार भेजी जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *