kisan 1

किसान आंदोलन: कृषि कानून के विरोध में राजेन्द्र यादव ने किसानों के लिए फ्री कराया टोल प्लाज़ा

वेबवार्ता डेस्क: 12 दिसंबर को भारतीय किसान संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेन्द्र यादव के नेतृत्व में टोल बूथों को‌ टोल फ्री करने का समर्थन किया गया।

इस्टर्न पेरिफेयर दादरी टोल प्लाज़ा व लुहारली टोल प्लाज़ा को भारतीय किसान संगठन ने फ्री कराया। दोनों ही टोल प्लाज़ा नोएडा गौतम बुद्ध नगर में आते हैं। राजेन्द्र यादव ने कहा कि भारत सरकार द्वारा जो कृषि बिल लाया गया है उसमें बहुत खामियां हैं। जिनका भुगतान किसान को अपनी मेहनत की कमाई गंवाकर करना पड़ेगा। जिसका पुरज़ोर रूप से भारतीय किसान संगठन विरोध करता है।

आज पूरे भारत में टोल फ्री करने का सीधा मतलब है सरकार को किसानों की ताकत दिखाना। सरकार जल्द से जल्द इस समस्या का समाधान करे अन्यथा किसान अपनी ताकत 14 दिसंबर को सत्ता पक्ष के प्रतिनिधियों को घेर कर अपना विरोध प्रकट करेगा। भारतीय किसान संगठन ने पूर्व में 11 सितंबर 2019 को सहारनपुर से और 21 सितंबर 2019 को दिल्ली के लिए एक पदयात्रा निकाली थी।

WhatsApp Image 2020 12 12 at 7.31.22 PM e1607783676147

जिसमें कृषि मंत्रालय में कुछ मांगों को लेकर सहमति बनी थी। कुछ मांगो पर आश्वासन दिया गया था कि इस बार किसान दिल्ली से आश्वासन नहीं समस्या का हल लेकर जाएगा। किसान आरपार की लड़ाई के मूड में है। भारतीय किसान संगठन उत्तर प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, झारखंड, बिहार, छत्तीस गढ़, महाराष्ट्र आदि प्रदेशों में टोल बूथों को फ्री कराने का हिस्सा बना है, भारतीय किसान संगठन मांग करता है कि देश के सभी किसानों की भावनाओं का हित रखते हुए इस काले कानून में जो खामियां हैं उन्हे खत्म किया जाए जिससे किसान अपने आप को सुरक्षित महसूस कर सके।

अगर भारत सरकार इस काले कानून को खत्म नहीं करती है तो भारतीय किसान संगठन भविष्य में भी आंदोलन करेगा। इस मौके पर पश्चिमी प्रदेश अध्यक्ष प्रमोद सराय घासी, सदेन्दर सिंह, वीरेश भाटी, निर्देश, गौरव, मोहम्मद नोसाद, विपिन शर्मा, आदि लोग उपस्थिति रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *