Farmers Protest: CM योगी बोले- किसानों को भड़का रहे नेता, लाल किले पर उपद्रव करने वाले दंगाई हैं

Cm Yogi
Webvarta Desk: उत्‍तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने दिल्‍ली में पिछले चार महीने से चल रहे किसान आंदोलन (Farmers Protest) के बहाने विपक्ष पर जोरदार हमला बोला है। उन्‍होंने योगेंद्र यादव (Yogendra yadav) समेत अनेक विपक्षी नेताओं पर किसानों को भड़काने का आरोप लगाया है।

उन्‍होंने (CM Yogi Adityanath) कहा कि गणतंत्र दिवस (Republic Day) पर लाल किले पर उपद्रव (Red Fort Violence) करने वाले किसान नहीं दंगाई हैं। सीएम योगी ने कहा कि किसान हमारा अन्‍नदाता है। पीएम मोदी (PM Modi) ने किसानों के लिए बहुत कुछ किया है। कृषि बिल किसानों के हित के लिए है।

लव जिहाद कानून (Love Jihad Kanoon) को लेकर योगी (CM Yogi) ने कहा कि यह कानून किसी धर्म के खिलाफ नहीं है। छल- कपट से शादी करने पर कानून अपना काम करेगा। हिंसा के दौरान सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले लोगों पर कार्रवाई को लेकर सीएम ने कहा कि वह सरकारी संपत्ति का नुकसान नहीं होने देंगे। जो भी तोड़फोड़ करेगा, उससे वसूला जाएगा।

‘बंगाल की जनता चाहती है परिवर्तन’

पश्चिम बंगाल चुनावों (West Bengal Election) को लेकर योगी ने कहा कि बंगाल में केंद्र की योजनाएं नहीं लागू की गईं। बंगाल की जनता भी परिवर्तन चाहती है। वहां की राजनीतिक हिंसा पर हर तरफ चर्चा हो रही है। बंगाल में बीजेपी पूरे बहुमत के साथ सरकार बनाएगी। टीएमसी में भगदड़ मची हुई है। हर बंगाली यहां भारतीय जनता पार्टी की सरकार चाहता है। बंगाल में लोग सुशासन के लिए बीजेपी की सरकार चाहते हैं।

पिछली सरकार में अपराध-दंगे चरम पर’

सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि यूपी में पिछले चार सालों के दौरान सकारात्‍मक माहौल बना है। पिछली सरकारों में अपराध और दंगे चरम पर थे। निवेशक उत्‍तर प्रदेश आने से डरते थे। यूपी अब एक्‍सपोर्ट का हब बन रहा है। ये नए भारत का उत्‍तर प्रदेश है।

‘लॉकडाउन में यूपी लौटे मजदूर नहीं गए वापस’

कोरोना काल और लॉकडाउन को लेकर पूछे गए सवाल पर योगी ने कहा कि इस दौरान हमारी सरकार ने करोड़ों लोगों को रोजगार देने का काम किया है। कोरोना काल में जो मजदूर यूपी लौटा था, वह वापस नहीं गया है। पिछली सरकार ने यूपी को पीछे धकेला था। हमने उद्योग लगाने की प्रकिया आसान की है। कोरोना महामारी ने हमें बड़ा सबक सिखाया है।