Farmers Protest: कृषि कानून के विरोध में किसान ने खड़ी फसल की बर्बाद, राकेश टिकैत ने की थी अपील

Webvarta Desk: Farmers Protest: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बिजनौर जिले में एक किसान ने खेत में गेहूं की खड़ी फसल (Bijnor Farmer Destroys Crop) को जोत दिया। 27 साल के सोहित अहलावत नामक किसान ने 6 बीघे में तैयार गेहूं को खुद ही ट्रैक्टर से नष्ट कर डाला।

किसान ने खुद ही इस पूरी घटना (Bijnor Farmer Destroys Crop) का वीडियो भी बनाया। उन्होंने नए कृषि कानूनों के विरोध में यह कदम उठाया। किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने एक दिन पहले ही महापंचायत (Maha Panchayat) में ऐसी अपील की थी।

बिजनौर की चांदपुर तहसील के कुलचना गांव के निवासी सोहित की वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। वीडियो में वह खुद ही ट्रैक्टर पर बैठकर अपनी फसल को जोतते नजर आ रहे हैं। उन्होंने वीडियो में यह भी बताया कि कृषि कानूनों के विरोध में ऐसा कदम उठा रहे हैं। अहलावत के पिता संजीव कुमार के पास 40 बीघा जमीन है।

सोहित ने वीडियो में कहा, ‘आप खेतों में खड़ी फसल को देख सकते हैं। मैं फसल को सभी लोगों के सामने बर्बाद कर रहा हूं। मैं किसानों के आंदोलन के समर्थन में यह कदम उठा रहा हूं। मैं नहीं चाहता हूं कि इन तीन काले कानूनों को हमारे ऊपर थोपा जाए। इसके जरिए बिजनौर से हमारे परिवार ने सरकार को संदेश देने का फैसला किया है।’

भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने एक दिन पहले महापंचायत में किसानों से आंदोलन को मजबूती देने का आह्वान किया था। उन्होंने साथ में यह अपील भी की थी कि जरूरत पड़ने पर विरोध स्वरूप फसलों को भी नष्ट कर दें।

अहलावत का वीडियो देखने पर टिकैत ने कहा, ‘मुझे इससे तकलीफ हुई। इस तरह नुकसान का मतलब नहीं बनता है। लेकिन अगर सरकार हमारी बात नहीं सुनती है तो और भी लोगों को ऐसा करना चाहिए।’