विश्व प्रसिद्ध होगा राम मंदिर का नजारा, सरयू में चलेगी क्रूज बोट.. एनिमेशन में दिखाई जाएगी रामकथा

New Delhi: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अयोध्या में राम मंदिर (Ayodhya Ram Mandir) के निर्माण के साथ ही उसके भाग्य खुलने लगे हैं। राम नगरी को पर्यटन के विभिन्न आकर्षणों से जोड़ने की कवायद शुरू कर दी गई है।

बताया जा रहा है कि आने वाले दिनों में सरयू नदी (Saryu River) में क्रूज बोट (Cruise Boat) चलाई जाएगी। गुप्तार घाट से इसका संचालन होगा। बुधवार को पर्यटन मंत्री नीलकंठ तिवारी ने इसका विस्तृत प्रजेंटेशन देखा।

मंत्री ने कहा कि अयोध्या के नया घाट पर रामायण काल पर आधारित सेल्फी पॉइंट का भी निर्माण कराया जाएगा। जो क्रूज बोट चलेगी, उस पर एनिमेशन के जरिए रामचरित मानस और रामकथा यात्रा का भी प्रदर्शन किया जाएगा।

क्रूज बोट का इंटीरियर भी रामचरित मानस पर आधारित होगा। पर्यटक बोट के जरिए शाम की सरयू आरती भी देख सकेंगे और उन्हें शाकाहारी भोजन भी प्रसाद के रूप में दिया जाएगा। अयोध्या में पर्यटकों को प्रशिक्षित गाइड उपलब्ध कराने के लिए पर्यटन प्रबंध संस्थान 100 स्थानीय गाइडों का 1 नवंबर से प्रशिक्षित करेगा।

वॉटर लेवलिंग के निर्देश

पर्यटन मंत्री ने सिंचाई विभाग को सरयू नदी में ड्रेनज और वाटर लेवलिंग के निर्देश दिए। मंत्री ने कहा कि वाराणसी में भी वाराणसी-चुनार-मार्केण्डेय महादेव रूट पर क्रूज संचालित किया जाएगा। चुनार किले को कैम्पिंग साइट के रूप में विकसित किया जाएगा।

उन्होंने अधिकारियों को चुनार किले के समेकित विकास की पर्यटन योजना बनाने के भी निर्देश दिए। प्रजेंटेशन में प्रमुख सचिव पर्यटन व संस्कृति मुकेश मेश्राम, महानिदेशक एनजी कुमार रवि व अन्य अधिकारी मौजूद थे।