अब दिल्ली सरकार का बड़ा आरोप, RML दे रहा गलत कोरोना रिपोर्ट

New Delhi: कोरोना वायरस (Coronavirus or Covid-19) माहमारी के बीच केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार के बीच एकबार फिर ठन सकती है। इसबार वजह बनेगा केंद्र सरकार के अंतर्गत आनेवाला राम मनोहर लोहिया हॉस्पिटल (RML Hospital), जिसपर दिल्ली सरकार ने गंभीर आरोप लगाए हैं।

आप नेता राघव चड्डा के बाद दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने राम मनोहर लोहिया (RML Hospital) पर कोरोना केस (Coronavirus or Covid-19) हैंडल करने में लापरवाही की बात कही है। कहा गया है कि RML ठीक वक्त पर कोरोना रिपोर्ट नहीं देता और कई बार गलत टेस्ट भी किए गए हैं।

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने गुरुवार को कहा कि RML टाइम पर कोरोना टेस्ट रिपोर्ट नहीं देता। 70 प्रतिशत लोग हॉस्पिटल पहुंचने के 24 घंटे में मर रहे हैं लेकिन उनकी टेस्ट रिपोर्ट 5-7 दिन में आती है। यह बिल्कुल गलत है। रिपोर्ट 24 घंटे के अंदर आनी चाहिए।

सत्येंद्र जैन ने यह भी कहा कि आरएमएल कोरोना टेस्ट करने में लापरवाही भी बरत रहा है। जैन बोले, ‘राम मनोहर लोहिया हॉस्पिटल ने दिन में 94 प्रतिशत सैंपल को पॉजिटिव बता दिया लेकिन दोबारा करने पर पता चला कि उसमें से 45 प्रतिशत नेगेटिव हैं।’ सत्येंद्र जैन ने कहा कि उन्होंने इसके लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन सिंह से बात की है।

राघव चड्ढा ने भी लगाए थे यही आरोप

आम आदमी पार्टी ने केंद्र सरकार के आरएमएल अस्पताल पर गलत जानकारी मुहैया करवाने का बड़ा आरोप पहले भी लगाया है। आप के राष्ट्रीय प्रवक्ता और विधायक राघव चड्ढा ने बुधवार को कहा था कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में जांच सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है। लेकिन आरएमएल गलत टेस्टिंग कर लोगों की जान के साथ खिलवाड़ कर रहा है। उन्होंने कहा कि आरएमएल अस्पताल द्वारा किए गए 45 फीसदी टेस्टिंग की रिपोर्ट गलत निकली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *