UP: कोरोना वॉरियर का बड़ा आरोप, बोले- ‘CMO ने दीं गंदी गालियां’

New Delhi: CMO abuses accused of Ambulance Workers: उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में एंबुलेंस प्रभारी और प्रोग्राम मैनेजर ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. जीसी मौर्य पर दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाया है। इस पूरे मसले को लेकर एंबुलेंसकर्मियों ने नाराजगी दर्ज कराई है। शुक्रवार को एंबुलेंसकर्मी सेवा ठप करने के साथ माफी मांगने की जिद्द पर प्रदर्शनरत रहे।

प्रदर्शन कर रहे एंबुलेंसकर्मियों ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय गेट पर धरना देने के साथ जमकर नारेबाजी भी की। उधर कर्मचारियों के साथ हुए दुर्व्यवहार (CMO abuses accused of Ambulance Workers) को लेकर कर्मचारी संयुक्त परिषद के पदाधिकारियों ने सीएमओ कार्यालय पर चल रहे धरने को समर्थन दिया। हंगामा बढ़ता देख सीएमओ अपने कार्यालय से निकल गए।

एंबुलेंस प्रभारी रवि ने बताया कि पुलिस अधीक्षक को लखनऊ पीजीआई ले जाने के लिए आधुनिक चिकित्सकीय सुविधाओं से लैस एंबुलेंस मंगाई गई थी। जिले में इस तरह की महज तीन एंबुलेंस ही उपलब्ध हैं। जिसमें से एक खराब पड़ी हुई है। दूसरे से मरीज लखनऊ भेजा गया था। वहीं तीसरी एंबुलेंस भी शहर के संक्रमित मरीजों को कोविड-19 भर्ती कराने में लगाई गई थी।

एंबुलेंस प्रभारी की मांग- सीएमओ मांगे माफी

एंबुलेंस प्रभारी ने आरोप लगाया कि जब सीएमओ को इसकी जानकारी दी गई तो वह दुर्व्यवहार करने पर आमादा हो गए और गलत भाषा का प्रयोग करने लगे। इसके बावजूद देवकली प्राइमरी हेल्थ सेंटर से 108 एंबुलेंस सेवा से एक एंबुलेंस मंगाकर पुलिस अधीक्षक को लखनऊ भेजने का इंतजाम कराया गया। एंबुलेंसकर्मी इस पूरे मामले को लेकर सीएमओ के द्वारा माफी मांगने की मांग पर अड़े हुए हैं।

डीएम से की शिकायत

एंबुलेंसकर्मियों का कहना है कि अगर सीएमओ ने माफी नहीं मांगी तो वे एंबुलेंस सेवा ठप कर देंगे। वहीं संयुक्त कर्मचारी संघ के पदाधिकारियों ने भी इस मामले में सीएमओ की तरफ से माफी मांगने की बात का समर्थन किया है।

एंबुलेंसकर्मियों ने चेतावनी दी है कि अगर 24 घंटे के अंदर सीएमओ माफी नहीं मांगते हैं तो जिले और उसके बाद प्रदेश की एंबुलेंस सेवा ठप कर दी जाएगी। वहीं इस पूरे मामले में जिलाधिकारी को सदर तहसीलदार के माध्यम से संयुक्त कर्मचारी संघ ने पत्र सौंप कार्रवाई की बात कही है। सदर तहसीलदार ने जिलाधिकारी को संबोधित पत्र लेने के साथ ही पूरे मामले की जानकारी से जिलाधिकारी को अवगत कराने का आश्वासन दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *