लखीमपुर खीरी की घटना पर भूपेश बघेल के साथ खड़े हैं टीएस सिंहदेव, कही बड़ी बात

हाइलाइट्स

  • लखीमपुर खीरी जाने के लिए भूपेश बघेल को यूपी सरकार ने नहीं दी अनुमति
  • भूपेश बघेल को लखनऊ में भी उतरने की इजाजत नहीं
  • टीएस सिंहदेव ने भूपेश बघेल का दिया साथ, यूपी सरकार को घेरा
  • सिंहदेव ने कहा कि यूपी की सरकार तानाशाह हो गई है

रायपुर
लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri Update News) की घटना को लेकर सियासत तेज है। छत्तीसगढ़ सीएम लखीमपुर की घटना का विरोध किया है। उन्हें लखीमपुर खीरी जाने की अनुमति नहीं मिली है। इस बीच उन्हें स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव का भी साथ मिला है। टीएस सिंह देव ने भी लखीमपुर खीरी की घटना का विरोध किया है।

स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा है कि प्रियंका गांधी और दीपेंद्र हुड्डा को अवैध रूप से रोकने की कोशिश के बाद यूपी सरकार ने छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल को अनुमति नहीं देने का आदेश जारी किया है। वह लखनऊ पहुंच चुके हैं। टीएस सिंहदेव ने कहा कि बीजेपी ऐसे दिखावा कर रही है, जैसे यूपी एक तानाशाह के अधीन एक अधिनायकवादी राज्य है।

वहीं, भूपेश बघेल ने कहा है कि यूपी की सरकार मुझे राज्य में न आने देने का फरमान जारी किया है। क्या यूपी में नागरिक अधिकार स्थगित कर दिए गए हैं। अगर धारा 144 लखीमपुर में है तो लखनऊ उतरने से क्यों रोक रही है तानाशाह सरकार? सीएम ने कहा कि इस देश में मौलिक अधिकार का हनन किया जा रहा है। प्रियंका गांधी को बिना गिरफ्तारी वारंट के रोका गया है।

गौरतलब है कि ढाई ढाई साल वाले फॉर्म्युले को लेकर भूपेश बघेल और टीएस सिंहदेव में तनाव है। मगर लखीमपुर खीरी की घटना को लेकर टीएस सिंहदेव ने सीएम भूपेश बघेल का साथ दिया है। हालांकि खुलकर एक-दूसरे के खिलाफ कभी दोनों नहीं बोलते रहे हैं। इनके समर्थक जरूर एक-दूसरे पर आरोप लगाते हैं।