संतों ने उद्धव को दी थी अयोध्या न आने की ध’मकी, चंपत बोले- किसकी मां ने दूध पिलाया जो उन्हें रोके

New Delhi: कंगना रनौत (Kangana Ranaut) वि’वा’द में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट (Ram Mandir Trust) के महासचिव चंपत राय (Champat rai) भी कूद पड़े हैं। उन्होंने शिवसेना सुप्रीमो (Shivsena Chief) और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) का इस मामले में समर्थन किया है। चंपत राय ने कहा कि किसकी मां ने इतना दूध पिलाया है जो उद्धव ठाकरे को अयोध्या में प्रवेश करने से रोक सके।

बताते चलें कि शिवसेना (Shivsena) और कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के बीच तना’तनी काफी बढ़ गई है। शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत (Sanjay Raut) से वि’वा’द के बाद कंगना ने कहा था कि वह मुंबई आ रही हैं और जिसमें हिम्मत है उन्हें रोक ले। इन सबके बीच BMC ने उनके दफ्तर को ध्व’स्त कर दिया था। इस मामले में अयोध्या (Ayodhya) में साधु-संतों ने भी उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) का विरो’ध किया था। हालांकि राम मंदिर ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय (Champat rai) उनके साथ खड़े दिख रहे हैं।

चंपत राय (Champat rai) ने कहा, ‘किसी की मां ने इतना दूध पिलाया है कि वह उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) का सामना करेगा वह भी अयोध्या में। किसी की मां ने इतना जीरा खाया है कि उसने इतना ताकतवर बच्चा पैदा किया है कि वह गंगा को रोक सके। अयोध्या में ऐसा कौन है, जिसकी मां ने इतना जीरा खाया है कि ऐसी संतान पैदा हुई है कि अयोध्या में उद्धव ठाकरे को घुसने से रोक सके।’

बता दें कि अयोध्या के प्रतिष्ठित मंदिरों में से एक हनुमान गढ़ी समेत कई मंदिरों के साधु-संतों ने अयोध्या में उद्धव ठाकरे को घुसने से रोकने और विरो’ध करने का ऐलान किया है। ऐसे में राम मंदिर ट्रस्ट के महासचिव का उद्धव ठाकरे के पक्ष में खड़ा होना नए वि’वा’द को जन्म दे सकता है। यह बयान अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ही नहीं बल्कि अयोध्या के संतों को भी नाराज कर सकता है और अयोध्या के संत दो खेमों में बंट सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *