BJP सांसद प्रवेश वर्मा बोले- क से कोरोना, क से केजरीवाल… और हो गया बवाल

New Delhi: देश की राजधानी एक ओर जहां कोरोना वायरस (Coronavirus) जैसी महामारी से जूझ रही है। दूसरी तरफ उसे घटिया राजनीति भी झेलनी पड़ रही है। कोविड-19 मरीजों की मदद के बजाय ट्विटर पर एक-दूसरे को नीचा दिखाने की होड़ चल रही है।

पश्चिमी दिल्‍ली लोकसभा सीट से बीजेपी सांसद प्रवेश साहिब सिंह वर्मा (BJP MP Parvesh Verma) ने इशारों में इस महामारी की तुलना मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) से कर डाली। इस पर आम आदमी पार्टी के समर्थक भड़क गए और वर्मा को बुरी तरह ट्रोल किया जाने लगा। हालांकि बीजेपी सांसद के तेवर नरम नहीं पड़े।

क से केजरीवाल… हो गया बवाल

दरअसल बीजेपी सांसद ने शुक्रवार दोपहर ट्वीट किया, ‘क से कोरोना क से केजरीवाल’। उन्‍होंने और कुछ नहीं लिखा। इसके बाद तो प्रवेश सिंह वर्मा के ट्वीट पर उन्‍हें लताड़ने वालों की लाइन लग गई। उनके संसदीय क्षेत्र के कई लोगों ने सांसद के ऐसे ट्वीट पर निराशा जताई। बड़ी संख्‍या ऐसे लोगों की थी जो सांसद जी को ये समझाना चाह रहे थे कि उन्‍हें महामारी के वक्‍त राजनीति नहीं करनी चाहिए।

कई यूजर्स ने एकनाम विशेष को निशाना बनाने के लिए सांसद को खूब खरी-खोटी सुनाई।

AAP की तरफ से आया जवाब

आम आदमी पार्टी की ओर बुराड़ी के विधायक संजीव झा ने सिंह के इस ट्वीट को कोट करते हुए जवाब दिया। उन्‍होंने कहा, ‘किसी जाति विशेष के सरनाम को कोरोना से जोड़ना अत्‍यंत निंदनीय है। प्रवेश साहिब सिंह वर्मा जी, आप चुने हुए जनप्रतिनिधि हैं। कुछ तो पद की गरिमा रखिए।’

तिमारपुर के विधायक दिलीप पाण्‍डेय ने AAP समर्थकों से कहा कि “सांसद की हरकतों से हम विचलित न हों। अपना काम करते रहें। याद रहे-“वो तुम्हें गालियों में उलझाएंगे। तुम 20 लाख करोड़ पैकेज में हिस्से पर डटे रहना।””

केजरीवाल सरकार पर हमलावर हैं वर्मा

बीजेपी सांसद ने पहले विज्ञापन को लेकर दिल्‍ली सरकार को कटघरे में खड़ा किया था। दरअसल AAP सरकार ने कहा था कि वह कोरोना पर जागरूकता फैलाने के लिए विज्ञापन दे रही है।

इस पर वर्मा ने ट्वीट करके पूछा था कि ‘पिछले पांच सालों में कौनसा कोरोना था? अभी तक जो हजारों करोड़ उड़ाएं हैं, वो कौनसी जागरूकता फैला रहे थे? वो पैसे बचाये होते तो आज जागरूकता के साथ लोगों को अधिक बेहतर स्वास्थ्य सुविधा भी मिल रही होती।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *