BJP में सिंधिया से टकराने वाले गुड्डू की कांग्रेस में वापसी, बोले- ज्योतिरादित्य को सबक सिखाऊंगा

New Delhi: उपचुनाव से पहले एमपी में जोड़-तोड़ की राजनीति शुरू हो गई है। बीजेपी ने उपचुनाव (mp by-election) से पहले कांग्रेस को कई झटके दिए हैं। अब कांग्रेस ने भी बीजेपी के लोगों को तोड़ना शुरू कर दिया है।

बीजेपी में ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) से सीधे टकराने वाले प्रेमचंद गुड्डू (premchand guddu) की फिर से कांग्रेस में वापसी हो गई है। गुड्डू के साथ उनके बेटे अजीत बौरासी ने भी कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की है। ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीजेपी में आने के बाद से ही गुड्डू उन पर हमलावर थे।

उज्जैन के पूर्व सांसद प्रेमचंद गुड्डू (premchand guddu) लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी में चले गए थे। लेकिन पार्टी में अनदेखी की वजह से वह नाराज चल रहे थे। गुड्डू बीजेपी में रहते हुए ज्योतादित्य सिंधिया के ऊपर लगातार हमला कर रहे थे। साथ ही उनके करीबी तुलसी सिलावट को सांवेरट सीट से हराने की बात कर रहे थे। गुड्डू के तेवर को देखते हुए बीजेपी ने उन्हें नोटिस जारी किया था। नोटिस के जवाब नहीं देने पर बीजेपी ने प्रेमचंद गुड्डू को पार्टी से निष्कासित कर दिया।

कांग्रेस में की वापसी

गुड्डू ने निष्कासन पर कहा था कि मैंने 9 फरवरी को ही पार्टी छोड़ दिया है। रविवार को उन्होंने भोपाल में अपने बेटे के साथ कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की है। इस मौके पर पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति समेत कांग्रेस के कई नेता मौजूद रहें। चर्चा है कि गुड्डू को कांग्रेस सांवेर विधानसभा सीट से तुलसी सिलावट के खिलाफ मैदान में उतार सकती है।

सिंधिया को सबक सिखाऊंगा

कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण करने के बाद प्रेमचंद गुड्डू ने कहा कि मैंने कांग्रेस भी ज्योतिरादित्य सिंधिया की वजह से छोड़ी थी। अब 24 सीटों पर उपचुनाव में मैं प्रचार के लिए जाऊंगा। सभी सीटों पर ज्योतिरादित्य सिंधिया को मैं सबक सिखाऊंगा। केंद्रीय मंत्री रहते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कभी मेरे संसदीय क्षेत्र पर ध्यान नहीं दिया। मैं कांग्रेस में आकर अच्छा महसूस कर रहा हूं। वहीं, टिकट को लेकर उन्होंने कहा कि मुझे कोई आश्वासन नहीं मिला है।

अभी और लोग आएंगे

वहीं, पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने दावा किया है कि उपचुनाव से पहले अभी बीजेपी छोड़कर और लोग पार्टी में आएंगे। सज्जन ने कहा है कि विभिन्न क्षेत्रों से कई बड़े नेता हमारे संपर्क में हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस छोड़ कर गए, दूसरे नेताओं की भी कांग्रेस में घर वापसी होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *