cms

BJP नेता ने की इलाज के लिए पैरवी तो सीएमएस बोले- ‘नेतागीरी न करा, ज्यादा बोलबा तव फाड़ देब तोहका’

New Delhi: अपनी बेअन्दाज कार्यशैली को लेकर हमेशा विवादों में रहने वाले सुलतानपुर जिला अस्पताल के सीएमएस (Sultanpur CMS Audio) का नया कारनामा सामने आया है।

सड़क दुर्घटना में घायल हुए लोगों के ठीक ट्रीटमेंट को लेकर बीजेपी नेता द्वारा की गई पैरवी से सीएमएस (Sultanpur CMS Audio) इस कदर भड़के कि उन्होंने गाली-गलौच शुरू कर दी। सीएमएस ने यहां तक कह दिया कि ‘नेतागीरी न करा, ज्यादा बोलबा तव फाड़ देब तोहका।’

सीएमएस यहीं नहीं रुके, बात आगे बढ़ी तो दोनों तरफ से जमकर अभद्र शब्दों का प्रयोग किया गया। दोनों की इस बातचीत का ऑडियो (Sultanpur CMS Audio) सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।

दरअसल मंगलवार की शाम कादीपुर कोतवाली क्षेत्र के खोजापुर के पास तेज रफ्तार कार अनियंत्रित होकर पेड़ से टकरा गई। जिसमें सवार तीन लोग गंभीर रूप से घायल हुए, जिसमें से दो की मौत हो गई,जबकि एक को ट्रामा सेंटर लखनऊ रेफर किया गया। इसी घटना को लेकर सांसद मेनका गांधी के विकास समिति सदस्य मोहित सिंह ने सीएमएस जिला अस्पताल पुरुष डॉ वीबी सिंह को फोन करके ठीक तरह से ट्रीटमेंट कर देखरेख करने की पैरवी की। यह पैरवी सीएमएस को इस कदर नागवार गुजरी कि वह गाली-गलौच पर उतर आए।

एडी हेल्थ बोले- ऑडियो की जानकारी नहीं

सोशल मीडिया पर वायरल 4:39 मिनट के इस ऑडियो में दोनों एक दूसरे पर अपशब्दों का प्रयोग करते सुने जा रहे हैं। दोनों की अभद्रतापूर्ण टेलीफोनिक बातचीत का ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद हड़कम्प मच गया। हालांकि एडी हेल्थ अयोध्या क्षेत्र डॉ. राजेन्द्र कपूर ने इस तरह की जानकारी से इनकार किया है। उन्होंने कहा कि ऑडियो की जानकारी नहीं है। शिकायत आने पर जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

रसूख के दम पर टिके हैं सीएमएस?

गौरतलब है कि सीएमएस डॉ वीबी सिंह अभद्र भाषा के इस्तेमाल और लोगों के साथ बदतमीजी के लिए लगातार सुर्खियों में रहे हैं। इतना ही नहीं, अपने मातहतों के साथ भी अभद्र व्यवहार के लिए वह कई बार फटकार भी खा चुके हैं। यहां तक कि डीएम सी. इंदुमती सीएमएस के खिलाफ शासन को पत्र भी लिख चुकी हैं, लेकिन अफसरशाही में ऊंचे रसूख और सरकार के मंत्रियों में अच्छी पकड़ के चलते कार्रवाई नहीं हो सकी है।

ऑडियो वायरल हुआ तो मांगी माफी

टेलीफोनिक बातचीत का ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के जब फजीहत शुरू हो गई तो बैक फुट पर आए सीएमएस डॉ वीबी सिंह ने बीजेपी नेता मोहित को वॉट्सऐप पर मैसेज भेज खेद जताया। उन्होंने लिखा कि मौतों से मैं इमोशनल था, मुझे महसूस हुआ कि ऐसा व्यवहार नहीं करना चाहिए था, मैं आपकी इज्जत करता हूं।

बीजेपी नेता का भी विवादों से पुराना नाता

तो उधर बीजेपी नेता मोहित सिंह का भी विवादों से नाता रहा है। कुछ महीने पहले मोहित पर कादीपुर के पटेल चौक पर सरेराह दरोगा आनंद गौतम को पीटने और पुलिस के साथ अभद्रता का आरोप लगा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *