Nitish New Inning : शपथ के अगले ही दिन नीतीश की ‘सातवें घोड़े की सवारी’, बुलाई कैबिनेट की बैठक

पटना:
वैसे तो सालों से नीतीश हर मंगलवार को कैबिनेट की बैठक बुलाते रहे हैं। मंगलवार को बिहार के सियासी गलियारों का बड़ा दिन माना जाता है। इस दिन कैबिनेट की बैठक से कई दफा बड़े फैसले निकले हैं। लेकिन इस बार की बैठक थोड़ी खास है।

नीतीश ने बुलाई नई कैबिनेट की पहली बैठक
17 नवंबर यानि आज मंगलवार है। कैबिनेट की बैठक नीतीश मंगलवार को ही बुलाते रहे हैं लेकिन आज का दिन कुछ खास है। शपथ ग्रहण के अगले दिन ही कैबिनेट की बैठक बुलाकर ये संकेत देने की कोशिश की गई है कि NDA सरकार की प्राथमिकता आज भी काम ही है। बिहार चुनाव में जीत के बाद सोमवार को नीतीश कुमार ने सूबे के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। नीतीश कुमार सुबह 11 बजे कैबिनेट की पहली बैठक करेंगे। नीतीश की कैबिनेट बैठक के बारे में कहा जाता है कि जिन फैसलों को लेकर अंदाजा लगाया जाता है उसे नीतीश गलत साबित कर देते हैं। शायद अपने फैसलों से लोगों को चौंकाना-हैरान करना नीतीश का स्टाइल है। ऐसे में आज की बैठक से दस लाख नौकरियों का तोड़ निकलता है या फिर कुछ नए अदभुत फैसले होते हैं, ये तो 11 बजे के बाद ही पता चलेगा।

उधर एनडीए में शामिल सहयोगी दलों की तरफ से 14 मंत्रियों ने भी पद की शपथ ली है। अब बिहार में प्रोटेम स्पीकर मनोनीत किया जाना है। 23 नवंबर को बिहार की नई विधानसभा का पहला सत्र भी होगा। नियमों के हिसाब से सबसे पहले प्रोटेम स्पीकर मनोनीत किए जाएंगे जो नए विधायकों को शपथ दिलाएंगे। इसके बाद बिहार विधानसभा के स्पीकर का चुनाव होगा। विधानसभा स्पीकर के चुनाव का फैसला काफी अहम है। इसके पीछे वजह यह है कि एनडीए के पास कुल 125 विधायक हैं जो सरकार बनाने के आंकड़े से महज तीन ही ज्यादा हैं। ऐसे में सूबे में सरकार की स्थिरता के लिए बीजेपी अपने किसी खास नेता को ही यह पद सौंपना चाहती है।

नंदकिशोर यादव होंगे बिहार विधानसभा के नए स्पीकर!
नीतीश सरकार में पथ निर्माण मंत्री रहे बीजेपी नेता नंद किशोर यादव बिहार विधानसभा के अगले अध्यक्ष होंगे। सूत्रों के मुताबिक, बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पटनासाहिब से विधायक नंदकिशोर यादव बिहार विधानसभा के अगले स्पीकर होंगे। बीजेपी नेतृत्व ने इस बारे में नंद किशोर यादव को सूचित कर दिया है। निवर्तमान विधानसभा में जदयू के विजय कुमार चौधरी स्पीकर थे। लेकिन सोमवार को चौधरी ने मंत्री पद की शपथ ले ली है। जिसके बाद नंद किशोर का विधानसभा अध्यक्ष बनना पक्का माना जा रहा है।

स्पीकर पद को लेकर NDA में बनी सहमति
सूत्रों के मुताबिक, एनडीए में स्पीकर पद को लेकर बातचीत सहमति तक पहुंच गई है। जिसके बाद स्पीकर पद बीजेपी के खाते में जा रहा है। बिहार में इस बार दो डेप्युटी सीएम हैं। सोमवार को नए मंत्रिमंडल में दो उप मुख्यमंत्रियों तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी को भी शपथ दिलाई गई है। बिहार में हाल में सम्पन्न हुए विधानसभा चुनाव में एनडीए को 125 सीटें मिलीं, जिनमें से नीतीश कुमार की जदयू को 43 सीटें मिलीं और बीजेपी को जेडीयू से 31 सीटें अधिक (74 सीट) हासिल हुईं। सोमवार को नीतीश कुमार के साथ बीजेपी (BJP) के सात मंत्रियों, जदयू (JDU) से पांच मंत्रियों, ‘हम’ पार्टी और वीआईपी पार्टी से एक-एक मंत्रियों ने शपथ ली