Friday, January 22, 2021
Home > State Varta > ओवैसी के मंच से ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाने वाली अमूल्या को कोर्ट ने दी जमानत

ओवैसी के मंच से ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाने वाली अमूल्या को कोर्ट ने दी जमानत

New Delhi: कर्नाटक में असदुद्दीन ओवैसी की रैली में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने वाली अमूल्या लियोना (Amulya Leona) को जमानत मिल गई है। सिविल और सेशन कोर्ट ने उसकी याचिका मंजूर करते हुए सशर्त जमानत दी है।

आपको बता दें कि बीती 20 फरवरी को ओवैसी सीएए के विरोध में की गई रैली में अमूल्या (Amulya Leona) ने आपत्तिजनक नारे लगाए थे। इसके बाद पुलिस ने अमूल्या के खिलाफ आईपीसी की धारा 124ए के तहत केस दर्ज कर गिरफ्तार किया था।

अमूल्या (Amulya Leona) को कोर्ट ने सीआरपीसी के सेक्शन 167 (2) के तहत जमानत दी है। अमूल्या के वकील प्रसन्ना ने बताया कि इस सेक्शन के तहत पुलिस को आरोपी के खिलाफ 90 दिनों के अंदर चार्जशीट कोर्ट में दाखिल करनी चाहिए लेकिन पुलिस ने अभी तक ऐसा नहीं किया, इसलिए अदालत ने अमूल्या को जमानत दी है।

लगाए थे ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे

अमूल्या ओवैसी की नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ आयोजित रैली में भाषण देने के लिए मंच पर आई थीं। अपने भाषण की शुरुआत में ही अमूल्या ने तीन बार पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए। उस समय ओवैसी मंच पर ही मौजूद थे।

अमूल्या के नारे सुनने के बाद वह भी उनसे माइक छीनने के लिए दौड़ पड़े। हालांकि, अमूल्या ने बाद में अपने नारे लगाने का मतलब स्पष्ट करने की कोशिश की थी लेकिन मंच से ही पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया।

ब्लॉगिंग करती है अमूल्या

बता दें कि अमूल्या बेंगलुरू के एनएमकेआरवी महिला कॉलेज की छात्रा हैं। वह बेंगलुरू रिकॉर्डिंग कंपनी में ट्रांसलेटर के तौर पर काम भी कर चुकी हैं। लियोना ब्लॉगिंग भी करती हैं और उनका ‘अलनोरोन्हा’ के नाम से अलग फेसबुक पेज भी है।

अमूल्या उस समय भी चर्चा में आई थी जब जनवरी में मंगलुरू एयरपोर्ट पर पोस्टकार्ड न्यूज के को-फाउंडर महेश विक्रम हेगड़े को कुछ महिला एक्टिविस्ट ने ‘वंदे मातरम्’ गाने की मांग की थी। उस ग्रुप में अमूल्या लियोना भी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *