Arundhati Swarna Yojana

असम की BJP सरकार दुल्हन को तोहफे में देती है सोना, शादी से पहले ऐसे करें आवेदन

Webvarta Desk: Arundhati Swarna Yojana: अभी तक आपने दूसरे देशों में सरकारों द्वारा बच्चों की पढ़ाई-लिखाई और शादी का खर्च सरकार द्वारा उठाए जाने की बातें देखी और सुनी होंगी। लेकिन भारत में भी एक ऐसा राज्य है, जहां सरकार गरीब माता-पिता को उनकी बेटी की शादी में बड़ी सौगात देती है। दरअसल, असम सरकार की अरुंधति स्वर्ण योजना के तहत सरकार कुछ शर्तों के साथ शादी में दुल्हन को सोना उपहार में देती है।

असम सरकार (Assam Govt) की इस योजना (Arundhati Swarna Yojana) के तहत शादी में दुल्हन को सरकार की तरफ से सोना खरीदने के लिए 30 हजार रुपये की मदद दी जाती है। यह स्कीम असम सरकार ने पिछले साल लॉन्च की है। इस योजना का लाभ उठाने के लिए कुछ शर्तें रखी गई हैं। जिस समय यह योजना शुरू की गई थी, उस समय 10 ग्राम सोने का भाव 30हजार रुपये था। यानी सरकार 10 ग्राम सोने की कीमत भुगतान करती थी।

क्या है अरुंधति स्वर्ण योजना में यह है शर्तें

अरुंधति स्वर्ण योजना स्कीम (Arundhati Swarna Yojana) के तहत असम सरकार दुल्हन को सोने के गहने खरीदने के लिए 30 हजार रुपये देती है। असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने पिछले वर्ष इस योजना की शुरुआत की। इस योजना का लाभ उठाने के लिए कुछ शर्तें रखी गई हैं। पहली शर्त है कि दुल्हन के परिजनों को शादी रजिस्टर्ड करवानी होगी। इसके अलावा दुल्हन कम से कम 10वीं तक की पढ़ाई की हो। दुल्हन के परिवार की सालाना आमदनी 5 लाख रुपये से कम होनी चाहिए।

एक और खास बात यह है कि अरुंधति स्वर्ण योजना का लाभ लड़की की पहली शादी पर ही मिलेगा। यानी दूसरी शादी करने पर इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा। इस स्कीम के तहत गरीब परिवारों को काफी मदद मिली है। असम सरकार ने 2019-20 में अरुंधति गोल्ड योजना के लिए 300 करोड़ रुपये का प्रावधान किया था।

कैसे मिलेगा लाभ

इस योजना के तहत सरकार दुल्हन को तोहफे में जेवरात नहीं देती। शादी के रजिस्ट्रेशन और वेरिफिकेशन के बाद 30 हजार रुपये सीधे दुल्हन के बैंक अकाउंट में जमा किए जाते हैं। उसके बाद दुल्हन के परिजनों द्वारा खरीदे गए 30 हजार रुपये के जेवरात के बिल जमा करने होंगे।

दरअसल, असम सरकार का उद्देश्य है कि इन पैसों का इस्तेमाल किसी दूसरे काम में नहीं किया जाए। इस योजना का उद्देश्य आर्थिक तौर पर कमजोर माता-पिता को कुछ राहत पहुंचाना है। सरकार की ओर से दिया गया सोना लड़की को भी आर्थिक तौर पर मजबूत बनाता है।

इस तरह करें अप्लाई

अरुणधति स्वर्ण योजना (Arundhati Swarna Yojana) का लाभ उठाने के लिए शादी को स्पेशल मैरिज एक्ट 1954 के तहत रजिस्टर कराना होगा। साथ ही जिस लड़की की शादी हो रही है उसकी उम्र कम से कम 18 साल और लड़के का 21 साल होनी चाहिए। सरकार को उम्मीद है कि यह योजना गरीब परिवारों को सरकार की एक निशानी के तौर पर जानी जाएगी।

अरुंधति गोल्ड स्कीम के तहत लाभ उठाने के लिए revenueassam.nic.in पर जाकर ऑनलाइन फॉर्म भरना होगा। ऑनलाइन फॉर्म भरने के बाद इसका प्रिंटआउट निकालना होगा। ऑनलाइन के साथ-साथ प्रिंटआउट को भी जमा करना होता है। आपकी एप्लीकेशन मंजूर हुई या नहीं इसके बारे में आपको एसएमएस से पता चल जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *