कानपुर एनकाउंटर: असदुद्दीन ओवैसी बोले- CM योगी और उनकी ‘ठोंक देंगे’ नीति फेल

New Delhi: ​कानपुर एनकाउंटर मसले पर अब एआईएमआईएम के नेता असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने भी योगी सरकार (Yogi Govt) पर निशाना साधा है।

ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने इस घटना को पूरी तरह से यूपी के सीएम योगी आदित्‍यनाथ (Yogi Adityanath) की विफलता करार दिया है। हैदराबाद से सांसद ओवैसी ने कहा विकास दुबे मामले से पता चलता है कि यूपी सरकार की ‘ठोक देंगे’ पॉलिसी राजनीतिक तौर पर पूरी तरह नाकाम है।

ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने इस सिलसिले में कई ट्वीट करते हुए लिखा, ‘आप बंदूक की मदद से कानून का शासन नहीं स्‍थापित कर सकते और न ही सकारात्‍मक नतीजों के बारे में सोच सकते हैं। दबंग पुलिस की नीति से आप दुबे जैसे लोगों को समझ में पनपने से नहीं रोक पाए। कानूनी कार्रवाई के जरिए लोगों का न्‍याय में भरोसा बढ़ता है। इसे एक उदाहरण बनाया जाना चाहिए था। उसपर मुकदमा चलाया जाता और कानूनन उसे सजा मिलती। हमें नहीं भूलना चाहिए कि दुबे को मिले राजनीतिक संरक्षण ने उसे ऐसा दानव बना दिया है।’

विपक्ष है हमलावर

इस घटना को लेकर विपक्षी दल बीजेपी की योगी सरकार पर हमला कर चुके हैं। अखिलेश यादव ने इस घटना पर कहा कि योगी सरकार के मुठभेड़ के नाटक के कारण यह घटना हुई। वहीं मायावती ने इस घटना को शर्मनाक बताया।

समाजवादी पार्टी ने योगी सरकार को रोगी सरकार बताया है तो प्रियंका गांधी ने घटना को भयावह बताते हुए कहा था कि यूपी में कानून व्यवस्था बेहद बिगड़ चुकी है, अपराधी बेखौफ हैं। वरिष्‍ठ कांग्रेसी पी चिदंबरम ने भी इस घटना को यूपी के लिए शर्मनाक बताते हुए सवाल उठाया था कि क्‍या किसी कुख्‍यात बदमाश को पकड़ने के लिए पुलिस रात के अंधेरे में इस तरह जाती है।

8 पुलिसकर्मी हुए थे शहीद

कानपुर में गुरुवार देर रात शातिर बदमाश विकास दुबे को पकड़ने गई पुलिस टीम पर हुई फायरिंग में आठ पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे। अपराधियों के साथ मुठभेड़ में एक पुलिस उपाधीक्षक समेत आठ पुलिसकर्मियों की मौत हो गई। इस घटना में पांच पुलिस कर्मी, एक होमगार्ड का जवान और एक आम नागरिक घायल हो गए। इसके बाद शुक्रवार सुबह मुठभेड़ में पुलिस ने दो बदमाशों को मार गिराया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *