कोविड-19 टेस्टिंग के लिए अधिक पैसे लेने का एक और मामला

Covid 19
-एक और लैबारेटरी के खिलाफ पुलिस को जांच के लिए कहा: डिप्टी कमिश्नर
-कहा, संकट के दौर में लापरवाही और मरीज़ों से लूट के मामलें में की जाएगी सख़्त कार्यवाही
-अस्पतालों और लैब में अधिक पैसे लेने का पर्दाफाश करने वाले पत्रकारों के प्रयासों की प्रशंसा की

जालंधर, 02 जून (अश्विनी ठाकुर)। कोविड-19 के टैस्टों के लिए मरीज़ों से कथित तौर पर अधिक पैसे लेने के मामलें में एक और लैब के विरुद्ध सख़्ती करते हुए ज़िला प्रशासन ने बुद्धवार को पुलिस अथारिटी को इस सम्बन्धित एक पत्रकार की शिकायत पर जांच करने के लिए कहा, जिसने इस गलत काम को बेनकाब करने के लिए लैब में स्टिंग आप्रेशन किया था। जांच के बाद आरोप सही होने पर एफ.आई.आर. दर्ज करने के निर्देश भी दिए गए है।

Covid 19इस सम्बन्धित और ज्यादा जानकारी देते हुए डिप्टी कमिश्नर घनश्याम थोरी ने बताया कि मकसूदां चौक में रत्न लैबज़ खिलाफ एक और शिकायत मीडिया संस्था ट्रू स्कूप में सहायक संपादक की तरफ से प्राप्त हुई है, जो कि मरीज़ के तौर पर लैब में पहुँची और आर.टी.-पी.सी.आर. टैस्टों के लिए सरकार की तरफ से निर्धारित की गई फीस से दुगने 900 रुपए की अदायगी की। अवनीत कौर ने टैस्ट के लिए वहां मौजूद दूसरे मरीज़ों से प्रतिक्रिया लेते हुए सारी घटना की वीडियो भी रिकार्ड की। पुलिस कमिश्नर जालंधर को लिखे पत्र में प्रशासन ने इस मामलें की जांच एक सीनियर पुलिस अधिकारी से करवाने के इलावा यदि आरोपी सही साबित होते हैं तो लैब खिलाफ एफ.आई.आर. दर्ज करने के लिए कहा गया है। ज़िक्रयोग्य है कि ज़िला प्रशासन की तरफ से पहले भी इस स्वास्थ्य संकट दौरान मरीज़ों की लूट करने वाली लैब और अस्पतालों विरुद्ध सख्ती करते हुए एफ.आई.आर. दर्ज करने का आदेश दिए गए थे।

covidश्री थोरी ने बताया कि राज्य सरकार की तरफ से आर.टी.-पी.सी.आर. टैस्ट के लिए 450 रुपए निर्धारित किये गए और किसी को भी इससे अधिक कीमत लेने की आज्ञा नहीं है। यदि कोई भी लापरवाही करता है और अधिक पैसे लेता पाया गया तो उसके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जायेगी डिप्टी कमिश्नर ने कोविड-19 के साथ सम्बन्धित सेवाएं राज्य सरकार की तरफ से निर्धारित वाजिब कीमतों पर यकीनी बनाने की अपनी वचनबद्धता को दोहराते हुए कहा कि लापरवाही और अधिक पैसे पैसे लेने सम्बन्धित किसी भी प्रकार की शिकायत के मामलें में सख़्त कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने नागरिकों को कोविड-19 के इलाज में लापरवाही और अधिक पैसे लेने सम्बन्धित हैल्पलाइन नंबर 0181-2224417 पर शिकायत दर्ज करने की अपील की,जिससे अपराधियों खिलाफ बनती कार्यवाही की जा सके। इस दौरान डिप्टी कमिश्नर ने अवनीत कौर की तरफ से अधिक पैसे लेने के मामलें का पर्दाफाश करने के लिए किये प्रयत्नों की प्रशंसा करते हुए कहा कि इस तरह कोशिशें न सिर्फ़ इन बेनियमियों को उजागर करती हैं, बल्कि व्यवस्था में पारर्दिशता को भी उत्साहित करती है।